भारत चीन फेस ऑफ़: तनाव बढ़ा: चीन ने एलएसी पर 100 से अधिक रॉकेट लॉन्चर तैनात किए..


स्टोरी हाइलाइट्स

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के मुताबिक, चीनी सूत्रों ने बताया कि चीन ने भारत से लगी संवेदनशील सीमा पर 100 से ज्यादा अत्याधुनिक रॉकेट लॉन्चर तैनात किए हैं।

भारत चीन फेस ऑफ़: तनाव बढ़ा: चीन ने एलएसी पर 100 से अधिक रॉकेट लॉन्चर तैनात किए..



 

चीन ने LAC पर PHL03, लॉन्ग रेंज मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर सिस्टम तैनात किया है। नए पीएचएल 03 मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर की 10 इकाइयां लद्दाख भेजी गई हैं।

 

बीजिंग: भारत अपने सीमा विवाद को सुलझाने के लिए चीन के साथ बातचीत पर जोर दे रहा है, वहीं चीन बार-बार भारत को इरिटेट करने की कोशिश कर रहा है. वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर चीन की गतिविधियां बढ़ गई हैं। चीन ने सीमा पर 100 से अधिक अत्याधुनिक रॉकेट लॉन्चर तैनात किए हैं। इसके अलावा, चीनी सेना ने 155 मिमी कैलिबर पीसीएल 181 स्वचालित होवित्जर तैनात किया है। ऐसा लगता है कि चीन की मंशा ठीक नहीं है।

 

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के मुताबिक, चीनी सूत्रों ने बताया कि चीन ने भारत से लगी संवेदनशील सीमा पर 100 से ज्यादा अत्याधुनिक रॉकेट लॉन्चर तैनात किए हैं। पीपल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) हिमालय में ठंड से निपटने की तैयारी कर रही है। चीन का कहना है कि उसने M777 अल्ट्रा-लाइट हॉवित्जर सहित भारतीय सैनिकों की तीन रेजिमेंटों की तैनाती के जवाब में ऐसा किया।

 

चीन ने LAC पर PHL 03, लॉन्ग रेंज मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर सिस्टम तैनात किया है। नए पीएचएल 03 मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर की 10 इकाइयां लद्दाख भेजी गई हैं। प्रत्येक इकाई में 4 चालक दल के सदस्य होते हैं। इसमें 300 मिमी के 12 लॉन्चर ट्यूब हैं। रॉकेट की मारक क्षमता 650 किमी है। 12 मीटर लंबा यह रॉकेट 60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ सकता है।

 

रॉकेट सिस्टम रेंज 350 KM:

 

चीन ने भी भारतीय सीमा पर PCL 191 रॉकेट लॉन्चर तैनात किए हैं। यह चीन द्वारा विकसित AR3 सिस्टम पर आधारित है। इस रॉकेट सिस्टम की रेंज 350 किमी है। यह मॉड्यूलर रॉकेट सिस्टम आठ 370 मिमी रॉकेट दाग सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक चीनी सेना ने 100 से ज्यादा पीसीएल 181 ट्रक पर लगे हॉवित्जर तैनात किए हैं। इसके अलावा, 155 मिमी कैलिबर पीसीएल 181 स्वचालित हॉवित्जर लद्दाख के आसपास की सीमा पर तैनात किए गए हैं।



पुराण डेस्क

पुराण डेस्क