अशोक सराफ की इस कहानी को पढ़ने के बाद आप भी कहेंगे, ‘मामा तुम सच में महान हो!’

अशोक सराफ की इस कहानी को पढ़ने के बाद आप भी कहेंगे, ‘मामा तुम सच में महान हो’
तो यह है 'वैक्यूम क्लीनर' नाटक के रिहर्सल के दौरान का मामला। मामला उतना ही पुराना है जितना समय। लेकिन अशोक सराफ के इस मामले को पढ़कर आप भी कहेंगे, "मामा तुम सच में महान हो"।

अशोक सराफ newspuran 
नाटक 'वैक्यूम क्लीनर' की रिहर्सल अपने अंतिम चरण में था। अशोक सराफ भी बिना किसी नागा प्रतिदिन प्रशिक्षण में शामिल हुए। लेकिन एक दिन वह थोड़ा असहज दिखने लगे।

ये भी पढ़ें.. Annaatthe First Look: स्टाइलिश अंदाज से भरपूर रजनीकांत की नई फिल्म का पोस्टर रिलीज, जानिए कब रिलीज होगी फिल्म

अशोक सराफ हिंदी-मराठी सिनेमा का एक बड़ा नाम हैं। इतने सालों अशोक सराफ से दर्शकों का मनोरंजन करते आ रहे हैं। तीन दशक से भी ज्यादा समय से अपने अनोखे कॉमेडी अंदाज से दर्शकों को हंसाने वाले अशोक मामा ने कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया है। उन्होंने बॉलीवुड में कुछ फिल्में भी कीं।


फिल्म इंडस्ट्री में मामा के नाम से मशहूर अशोक सराफ न सिर्फ एक संवेदनशील अभिनेता हैं बल्कि एक संवेदनशील इंसान भी हैं। बहुत कम लोग होते हैं जो सोचते हैं कि हमें दूसरों को चोट नहीं पहुंचानी चाहिए। अशोक सराफ उनमें से एक हैं। उनका ये मामला पढ़कर आप अंदाजा लगा सकते हैं।

तो ये है मामला, नाटक 'वैक्यूम क्लीनर' की रिहर्सल के दौरान का..  

मामा की बेचैनी को नाटक के निर्देशक चिन्मय मंडलेकर की नज़रों से कैसे छुपाया जा सकता है? वह तुरंत अशोक मामा के पास गये और उससे कारण पूछा। लेकिन मामा अशोक ने मुस्कुराते हुए बात टाल दी और किसी तरह उस दिन की ट्रेनिंग पूरी की। चिन्मय शांत बैठने वालों में से नहीं थे। जब चिन्मय अशोक मामा के ड्राइवर के पास पहुंचे तो को सब कुछ पता चल गया। 

ये भी पढ़ें.. इन फ़िल्मी हस्तियों ने स्थापित किये गणनायक : घरों में विराजे बप्पा

ड्राइवर ने सब कुछ कह दिया। मामा अशोक हमेशा ऐसे ही भुगतते हैं। वे अपने पास एक बाम रखते हैं, ड्राइवर ने कहा। लेकिन मामा ने ट्रेनिंग के दौरान कभी भी बाम का इस्तेमाल नहीं किया। चिन्मय ने मामा अशोक से इस बारे में पूछा और वह भी उनके द्वारा बताए गए कारण को सुनकर चौंक गए।

'हाँ, मेरी गर्दन में दर्द होता है। लेकिन मैंने बाम को जानबूझकर इस्तेमाल नहीं किया। इसकी महक बहुत तीखी होती है। अगर मैं इसका इस्तेमाल करता हूं, तो सभी ट्रेनर्स को गंध सहन करना होगा। वे मुझे बेवजह परेशान नहीं करना चाहते थे। इसलिए मैंने बाम का इस्तेमाल नहीं किया, 'अशोक मामा ने कहा। चिन्मय उनकी वजह सुनकर चौंक गए। सभी कलाकार हैरान थे। सभी ने अपने से ज्यादा दूसरों के बारे में सोचने वाले बड़े मामा को देखा था।


EDITOR DESK



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


    श्रेणियाँ