केंद्र और ममता के बीच विवाद के बीच बंगाल के मुख्य सचिव अलपन ने दिया इस्तीफा

केंद्र और ममता के बीच विवाद के बीच बंगाल के मुख्य सचिव अलपन ने दिया इस्तीफा
केंद्र और बंगाल सरकार में जारी तनातनी के बीच पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव अलपन बंदोपाध्याय ने अपने पद से और सिविल सेवा से इस्तीफा दे दिया और बाद में टीम ममता में शामिल हो गए।

बता दें कि, केंद्र ने उन्हें 31 मई तक दिल्ली आने का आदेश दिया था, इसी विवाद के बीच उन्होंने यह फैसला लिया है। वहीं ममता ने बंदोपाध्याय को तीन साल के लिए अपना मुख्य सलाहकार नियुक्त किया है।

तूफान यस पर पीएम मोदी की बैठक में ममता की अनुपस्थिति से विवाद छिड़ गया था। ऐसी खबरें हैं कि बंदोपाध्याय को केंद्र सरकार के आदेश का उल्लंघन करने के लिए चार्जशीट का सामना करना पड़ सकता है।

bengal vs central

दूसरी ओर, एचके द्विवेदी को बंदोपाध्याय की जगह मुख्य सचिव चुना गया है। दूसरी ओर ममता ने केंद्र पर बदला लेने की नीति अपनाने का आरोप लगाया। वे ममता पर हमला करना चाहते थे और इसलिए मुख्य सचिव को निशाना बनाया गया।

ममता ने बाद में कहा, "हमारे मुख्य सचिव अलपन बंदोपाध्याय आज सेवानिवृत्त हो गए हैं।" हालांकि, वह तीन साल के लिए मुख्यमंत्री के मुख्य सलाहकार के रूप में काम करेंगे। केंद्र सरकार को शायद पता न हो कि बंदोपाध्याय अब केंद्र सरकार की सेवा में नहीं हैं।

ममता ने आरोप लगाया कि पीएम मोदी सरकारी अधिकारियों के साथ बंधुआ मजदूरों जैसा व्यवहार कर रहे हैं। ऐसा करके मोदी नौकरशाही को डराना चाहते हैं।

यस तूफान पर मोदी की बैठक से शुरू हुआ विवाद

बंगाल में यस तूफान पर शुक्रवार को पीएम मोदी की बैठक में शामिल होने के लिए बंदोपाध्याय देर से पहुंचे।

शुक्रवार शाम को केंद्र ने बंगाल के मुख्य सचिव अलपन बंदोपाध्याय को दिल्ली तलब किया था।

बंदोपाध्याय दिल्ली नहीं पहुंचे और इस्तीफा दे दिया और जल्दी सेवानिवृत्ति स्वीकार कर ली।

केंद्र सरकार ने आदेश का पालन न करने पर बंदोपाध्याय को कारण बताओ नोटिस भेजा था।

ममता ने ऐलान किया कि बंदोपाध्याय दिल्ली में शामिल नहीं होंगे, उन्हें मुख्य सलाहकार बनाया गया है।

केंद्र सरकार ने कहा, "अगर बंदोपाध्याय सेवानिवृत्त भी हो जाते हैं, तो हम कार्रवाई करेंगे और उन्हें चार्जशीट भेजेंगे।

 

 

Priyam Mishra



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ