BHOPAL : पूर्व अपर संचालक जन सम्पर्क श्री रविन्द्र पंडया का निधन

पूर्व अपर संचालक जन सम्पर्क श्री रविन्द्र पंडया का निधन
भोपाल: 28 जुलाई 2021

मध्यप्रदेश जन सम्पर्क विभाग के सेवानिवृत अपर संचालक, श्री रविन्द्र पंडया का आज यहाँ आकस्मिक निधन हो गया. वह आज अपने घर पास ही सुबह की सैर पर निकले थे. सैर करते समय उन्हें हार्टअटेक आया और वह वहीँ गिर पड़े. उनकी आयु 72 वर्ष थी. श्री पंड्या वर्ष 2009 में सेवानिवृत हुए  थे. वह अपने पीछे एक भरपूरा परिवार छोड़ गए हैं.

ravindra pandya
अपनी योग्यता, कार्यकुशलता और मिलनसारिता के कारण श्री पंडया जन सम्पर्क विभाग के साथ ही मीडिया कर्मियों में भी बहुत लोकप्रिय रहे. श्री पंडया ने अविभाजित मध्यप्रदेश में अनेक जिलों में जनसंपर्क अधिकारी के रूप में काम किया. इसके बाद वह संचालनालय में आ गये और यहाँ समाचार शाखा के साथ ही विज्ञापन, प्रशासन, लेखा आदि शाखाओं में अपनी सेवाएँ दीं. . 

श्री पंड्या पूर्व मुख्मंत्री श्री सुन्दरलाल पटवा और श्री बाबूलाल गौर के प्रेस अधिकारी रहे. इस महत्वपूर्ण पदस्थापना के दौरान उन्होंने बहुत उत्कृष्ट कार्य कर अपनी एक अलग छाप छोड़ी.

श्री पंड्या की सबसे बड़ी खूबी यह थी कि वह हमेशा अपने को improve करते रहते थे. हमेशा अपडेट रहते थे. बहुत अध्ययनशील श्री पंड्या की इतिहास विषय में ख़ास रूचि थी. उन्हें देश और प्रदेश की समस्याओं की बहुत अच्छी समझ थी. समाचार लेखन में वह बहुत सिद्धहस्थ थे.

जनसम्पर्क के पूर्व डायरेक्टर लाजपत आहूजा ने उनके निधन पर लिखा। रवीन्द्र पंडया जी नहीं रहे,सहसा इस दुखद खबर पर विश्वास नहीं होता. सहज और तनावमुक्त जनसंपर्क के प्रतीक रहे पंडया जी जनसंपर्क के ऐसे अधिकारियों में से रहे हैं जिन्होंने पुरानी पीढ़ी से नई पीढ़ी में जनसंपर्क का परिवर्तन देखा और जिया था. यह परिवर्तन कार्य शैली और तकनीक दोनों क्षेत्रों का था. उन्होंने मुख्यमंत्री के प्रेस अधिकारी के अलावा शासन और संचालनालय में विभिन्न दायित्वों का कुशलता से निर्वाह किया.

उनका यह प्रयास रहता था कि समस्या का हल निकले। इस दृष्टि से वे मध्य मार्ग अपनाने वाले थे. सभी से उनके संबंध मधुर रहते थे. ऐसे कम ही अवसर होंगे जब उन्हें रोष में देखा गया हो. पंडया जी ने अपने कैरियर की शुरूआत एक पत्रकार के रूप में की थी. यह पेशवरपन उनमें ताउम्र रहा. आफबीट समाचारों का महत्व और संकटकालीन जनसंपर्क के कई पाठ उन्होने साथियों को दिये. ऐसे तो नहीं जाना था आपको पंडया जी।
न्यूज़पुराण की ओर से स्वर्गीय पंडया को सादर श्रद्धांजलि. ईश्वर उनकी आत्मा को शान्ति और उनके परिवार को इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करें.

 

EDITOR DESK



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


    श्रेणियाँ