भोपाल समाचार: 2 माह बाद भोपाल में एक साथ मिले 16 नए कोरोना मरीज


स्टोरी हाइलाइट्स

मध्य प्रदेश में एक बार फिर कोरोना ने कहर बरपाया है। दो महीने बाद राजधानी भोपाल में एक साथ कोरोना वायरस संक्रमण के .....

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में मिले संक्रमित मरीजों में से 10 राजस्थान, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र से लौटे हैं। जिसमें 5 महिलाएं शामिल हैं। मध्य प्रदेश में एक बार फिर कोरोना ने कहर बरपाया है। दो महीने बाद राजधानी भोपाल में एक साथ कोरोना वायरस संक्रमण के 16 नए मामले सामने आए हैं। भोपाल में संक्रमित मरीजों में से 10 राजस्थान, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र से लौटे हैं। जिसमें 5 महिलाएं शामिल हैं। ये सभी राज्य के अलग-अलग जिलों के रहने वाले हैं, लेकिन इनके सैंपल की जांच भोपाल में ही हुई है, जिसमें कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। नवरात्र से पहले बड़ी संख्या में कोरोना के मरीज मिलने के बाद आईसीएमआर की ओर से हाई अलर्ट जारी किया गया है। कोरोना हेल्थ बुलेटिन के मुताबिक, कोरोना के 16 नए मरीज सामने आए हैं। इनमें से 9 इंदौर में, तीन भोपाल में और दो पन्ना में हैं। जबकि राज्य के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती 8 मरीजों की सेहत में सुधार होने पर उन्हें छुट्टी दे दी गई है। इनमें से 13 की जांच भोपाल और हबीबगंज रेलवे स्टेशनों के कोविड स्क्रीनिंग सेंटर में की गई है। बीएमएचआरसी में सैंपल से एक मरीज की रिपोर्ट मिली है। बता दें कि नवरात्रि के साथ ही फेस्टिव सीजन की शुरुआत हो गई है। इस दौरान बाजारों में भीड़भाड़ के साथ ट्रैफिक भी बढ़ने की संभावना है। इसे देखते हुए आईसीएमआर ने लोगों को बेहद सावधान रहने की चेतावनी दी है। संपर्क में आए लोगों की जांच एमपी के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग का कहना है कि कॉन्ट्रेक्ट ट्रेसिंग के बाद ज्यादा मामले सामने नहीं आए हैं. यह दर्शाता है कि वे हमारे पॉजिटिव केस के रूप में सामने आ रहे हैं। इसलिए हम करीब 50 लोगों के कॉन्ट्रैक्ट ट्रेस कर रहे हैं। अगर कोई पॉजिटिव केस आता है तो उनके संपर्क में आए 50 लोग कॉन्ट्रेक्ट ट्रेसिंग कर रहे हैं। हम देख रहे हैं कि कॉन्ट्रेक्ट ट्रेसिंग में कहीं कोई पॉजिटिव केस नहीं है। भोपाल में अब तक 16 मामले सामने आ चुके हैं, जिसके चलते लगातार उनकी जांच की जा रही है। कोरोना के पीक टाइम में जितनी टेस्टिंग हो रही थी, आज भी उतनी ही की जा रही है।