भूपेंद्र पटेल होंगे गुजरात के नए मुख्यमंत्री

विजय रूपाणी के इस्तीफे के बाद इस बात को लेकर काफी सस्पेंस बना हुआ था कि गुजरात का मुख्यमंत्री कौन होगा। रविवार शाम को कई राजनीतिक अटकलों पर आखिरकार विराम लग गया। मुख्यमंत्री पद के दावेदारों के नाम को लेकर चल रही अटकलों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर गुजरात के नए मुख्यमंत्री के तौर पर चौंकाने वाले नाम का ऐलान कर न सिर्फ भाजपा नेताओं बल्कि राजनीतिक पंडितों को भी चौंका दिया है।

कमलम में रविवार दोपहर भाजपा विधायकों की बैठक हुई। जिसमें गांधीनगर संसदीय क्षेत्र में आने वाले अहमदाबाद शहर के घाटलोदिया विधानसभा क्षेत्र के पाटीदार विधायक भूपेंद्र पटेल को मुख्यमंत्री चुना गया।

भाजपा विधायक और नेता उस समय हैरान रह गए जब भूपेंद्र पटेल, एक जूनियर और पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के विश्वासपात्र, गुजरात के 17 वें मुख्यमंत्री के रूप में चुने गए। संक्षेप में कहें तो आगामी विधानसभा चुनाव के बाद गुजरात में पाटीदार सत्ता चल रही है जिससे पटेल खुश हैं।

Bhupendra Patel

शनिवार को विजय रूपाणी ने अचानक मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया, जिससे गुजरात की राजनीति में हड़कंप मच गया। इस राजनीतिक घटना के बाद नए मुख्यमंत्री को लेकर काफी सियासी कयास लगने लगे।

सीएम की रेस में नितिन पटेल, पुरुषोत्तम रूपाला, मनसुख मांडविया, सीआर पाटिल, प्रफुल्ल पटेल, आरसी फालदू के नाम थे। भाजपा आलाकमान ने आनन-फानन में केंद्रीय निरीक्षक नरेंद्र सिंह तोमर और प्रफुल जोशी को मुख्यमंत्री चुनने के लिए गांधीनगर भेजा था।

दोनों नेता रविवार सुबह 10 बजे चार्टर विमान से अहमदाबाद पहुंचे। पर्यवेक्षक सीधे हवाईअड्डे से गांधीनगर स्थित भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सीआर पाटिल के बंगले पर पहुंचे जहां भाजपा के प्रदेश प्रभारी भूपेंद्र यादव समेत नेताओं के बीच बंद कमरे में बैठक हुई.

बैठक खत्म होते ही भाजपा के सभी विधायकों को दोपहर 2 बजे तक कमलम पहुंचने का निर्देश दिया गया. कमलम में भाजपा की कोर कमेटी की बैठक इस बैठक में भाजपा नेताओं ने नए मुख्यमंत्री के नाम पर मंथन किया। नए मुख्यमंत्री की अहम बैठक के बाद कमलम के आसपास पुलिस का कड़ा घेरा बनाया गया था.

दोपहर तीन बजे विधायकों की बैठक हुई जिसमें खुद मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने घाटलोदिया विधायक भूपेंद्र पटेल के नाम का प्रस्ताव रखा. एक बार तो हॉल में बैठे बीजेपी विधायक ये नाम सुनकर हैरान रह गए.

आनंदीबेन पटेल के विश्वासपात्र भूपेंद्र पटेल को नए मुख्यमंत्री के रूप में घोषित किया गया, जिनकी भाजपा विधायकों ने सराहना की। कमलम में चुनावी माहौल था। अगला मुख्यमंत्री कौन होगा, इस बारे में अटकलें आखिरकार खत्म हो गई हैं।

कड़वा पाटीदार को लेकर बीजेपी आलाकमान ने एक बार फिर पलटवार किया है. यह सच था कि पाटीदार को मुख्यमंत्री बनाया जाएगा लेकिन जिन दावेदारों के नाम पर नए मुख्यमंत्री के तौर पर चर्चा हो रही थी, उन्हें राजनीतिक पंडितों ने झूठा साबित कर दिया।

मुख्यमंत्री के तौर पर उनके नाम की घोषणा के बाद मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल समेत भाजपा के वरिष्ठ नेता सीधे राज्यपाल से मिलने गए और जया सरकार बनाने की मांग की. भूपेंद्र पटेल सोमवार को राजधानी गांधीनगर में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. अब कयास लगाए जा रहे हैं कि नया कैबिनेट मंत्री कौन होगा.

Priyam Mishra



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


    श्रेणियाँ