कांग्रेस Vs. कंगना… नाच-गाने पर रार…. हड्डी तोड़ने तक पहुची तकरार

कांग्रेस Vs. कंगना… नाच-गाने पर रार…. हड्डी तोड़ने तक पहुची तकरार 

 

कंगना और कांग्रेस की लड़ाई … धाकड़ कि शूटिंग तो नहीं रुकी कांग्रेस की हुयी जग-हंसाई 

कंगना रानौत और कांग्रेस के बीच चल रही तकरार सोचने पर मजबूर करती है| इस मामले में कंगना के अभिनय का राजनीतिकरण हो गया है या कांग्रेस नेताओं का फिल्मीकरण कहना मुश्किल है| फिल्मे चलाने के लिए स्टंट, डायलाग, कंट्रोवर्सी, अंग प्रदर्शन, भोंडापन ज़रूरी है| लेकिन सियासत के लिए भी अब ये हथकंडे काम आने लगे हैं| 

कंगना रानाउत एक अभिनेत्री हैं … देश से जुड़े विवादित मुद्दों पर कंगना के बयान चर्चा में हैं| कंगना के बयान आग में घी डालने वाले होते हैं| सुशांत सिंह राजपूत कि मौत से शुरू हुए कंगना के शब्द बाण किसान आन्दोलन तक और तल्ख होते गए| 

राष्ट्रवादियों के गढ़ में कंगना के बयानों का डंका बजने लगा तो कुछ कांग्रेसियों को इस अभिनेत्री से पंगा लेने में अपना चेहरा चमकता नज़र आया| कंगना एक्ट्रेस होने के कारण पहले से ही हैडलाइन में रहती आई है| इनके विरोध से MP के कांग्रेस नेताओं को भी नेशनल मीडिया में जगह मिलने लगी, फिर क्या था कभी कंगना की मध्यप्रदेश में शूटिंग का विरोध, तो कभी ऐसे बयान कि कंगना को पलटवार करना ही पड़े| 

मध्यप्रदेश के पूर्व मंत्री और कांग्रेस विधायक सुखदेव पांसे ने तो कंगना को नाचने गाने वाली कह डाला| कंगना ने भी बयान को हाथों हाथ लिया और इसे महिलाओं का आपमान बताते हुए हड्डीतोड़ फरमान जारी कर दिया| कंगना रनौत ने कांग्रेस MLA पर पलटवार करते हुए कहा- ‘मैं कमर नहीं हिलाती, हड्डियां तोड़ती हूं| 

पूरा देश कंगना को जानता है लेकिन पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को नहीं जानते ..कंगना पर अपनी पार्टी के MLA के बयान पर दिग्विजय सिंह ने व्यंग भरे लहजे में कहा वे नही जानते कंगना कौन है? 

कंगना के मुँह लगने से आखिर विधायक महोदय को क्या मिला? सस्ती लोकप्रियता और एक अभिनेत्री के हड्डीतोड़ शब्द| दरअसल सस्ती लोकप्रियता, नेतागीरी का शॉर्टकट है?  कहते हैं यदि आपको लोकप्रिय होना हो तो उस पर हमला कर दो जिसका नाम है| नामी लोग भी खुदको चर्चा में रखने के लिए विवादित बयान देते हैं जैसे कंगना किसान आन्दोलन पर दे रही थी| 

 


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ