वुहान की प्रयोगशाला में बनाया गया था कोरोना वायरस, दो वैज्ञानिकों का सनसनीखेज दावा

वुहान की प्रयोगशाला में बनाया गया था कोरोना वायरस, दो वैज्ञानिकों का सनसनीखेज दावा
दो वैज्ञानिकों ने सनसनीखेज दावा किया है कि दुनिया के दूसरे हिस्सों में फैले और भारत जैसे देशों में कहर बरपाने ​​वाले कोरोना वायरस को चीन के वुहान इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी की प्रयोगशाला में विकसित किया गया था।

वैज्ञानिकों ने अपने शोध में कहा कि वायरस तैयार करने के बाद चीनी वैज्ञानिकों ने रिवर्स इंजीनियरिंग तकनीकों की मदद से इसे बदलने की कोशिश की तो ऐसा लगता है कि वायरस चमगादड़ से विकसित हुआ है।

ऐसे समय में जब चीन दुनिया भर में वायरस पर चर्चा कर रहा है और संयुक्त राज्य अमेरिका और ब्रिटेन मामले की जांच के लिए दबाव बढ़ा रहे हैं, एक ब्रिटिश अखबार ने बताया कि ब्रिटिश प्रोफेसर एंगस डाल्ग्लिश और नॉर्वे के वैज्ञानिक डॉ बर्जर सोरेनसेन ने एक साल से अधिक समय का दावा किया था। समय के साथ चीन में वायरस पर रिवर्स इंजीनियरिंग का सबूत है।

wuhan institue of virology
प्रोफेसर डाल्ग्लिश लंदन के सेंट जॉर्ज विश्वविद्यालय में कैंसर विज्ञान के प्रोफेसर हैं, और डॉ सोरेनसेन एक वायरोलॉजिस्ट और एक कंपनी के अध्यक्ष हैं जो कोरोना के टीके बनाती है। दोनों वैज्ञानिकों का कहना है कि वुहान लैब में जानबूझकर डेटा को नष्ट किया गया। इसके खिलाफ आवाज उठाने वाले वैज्ञानिकों को या तो चीन ने खामोश कर दिया या फिर गायब हो गया।

प्रोफेसर डाल्ग्लिश और डॉ. सोरेनसेन का कहना है कि जब हम वैक्सीन बनाने के लिए कोरोना के नमूनों का अध्ययन कर रहे थे, तब वायरस पर एक विशेष प्रकार का फिंगरप्रिंट देखा गया था। यह तभी संभव है जब प्रयोगशाला में वायरस वायरस के संपर्क में हो। कुछ प्रसिद्ध पत्रिकाओं ने हमारे शोध को प्रकाशित करने से इनकार कर दिया।

कोरोना वायरस मानव निर्मित था या चमगादड़ से आया यह पिछले एक साल से दुनिया में चर्चा का विषय बना हुआ है। राष्ट्रपति बाइडेन ने अमेरिकी खुफिया एजेंसियों को भी जांच के आदेश दिए हैं।

Priyam Mishra



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ