गरीब और मध्यम वर्गीय कभी अमीर क्यूँ नहीं बन पाते? 

गरीब और मध्यम वर्गीय कभी अमीर क्यूँ नहीं बन पाते? 



क्या आप जानना चाहते हैं कि XYZ कुमार जो कि कौन बनेगा करोड़पति के विनर थे और जिन्हें 5 करोड रुपए मिले थे “एज़ द प्राइज विनिंग” आज उनकी क्या हालत है? आज उनके पास एक जॉब तक नहीं है| और सारे पैसे खत्म हो चुके हैं, क्योंकि पहली वाली जॉब जिससे उन्हें ₹6000 मिल रहे थे आज उनके पास वह तक नहीं है| पर अब सवाल यह उठता है कि इतना इंटेलिजेंट आदमी, जिसने कौन बनेगा करोड़पति के सारे सवालों के जवाब देकर, 5 करोड़ रुपए जीते थे की यह हालत कैसे हुई? हममें से ज्यादातर लोगों को यह लगता है कि हमें यह पैसे मिले होते तो हम इसका बेहतर उपयोग करते, हम उससे कई गुना ज्यादा कमा चुके होते, लेकिन सच्चाई यह है कि हममें से ज्यादातर लोगों की हालत यही होती |

Money
आपको यकीन नहीं होता, चलो एक और एग्जांपल लेते हैं,उदाहरण है मिसेस शेरेन इन्होंने हैमिल्टन में एक लॉटरी जीती थी,  जो 10 मिलियन डॉलर की थी, जो इंडियन करेंसी के मुताबिक 65 करोड़ की थी, आज के हिसाब से यदि आप 10 बार  लगातार कौन बनेगा करोड़पति जीतते तब आप इतनी राशि प्राप्त कर पाते| 

आज इनकी हालत ठीक वही है जो  लॉटरी से पहले थी, आज भी यह जॉब ढूंढ रही हैं| 

क्या आप जानते हैं कि यह सारे करोड़पति ठीक उसी सिचुएशन में कैसे पहुंच गए जहां से उन्होंने शुरुआत की थी? दरअसल नए नवेले करोड़पति, “फाइनेंशली अनएजुकेटेड” होते हैं अब  हम आपको बताएंगे कि फाइनेंशियल एजुकेशन क्या होती है डरिए मत यह आपकी सोच से भी ज्यादा आसान है|

एक इनकम स्टेटमेंट में चार चीजें आती है इनकम, एक्सपेंस, ऐसेट, लायबिलिटी

इनकम के लिए आपको जॉब या बिजनेस करना पड़ता है, यदि आप काम कर रहे हैं तो पैसा आ रहा है और यदि आप काम नहीं कर रहे हैं तो पैसा आना बंद|

दूसरा है एक्सपेंसिव जरूरी खर्चे जिन्हें आप रोक नहीं सकते, जैसे कि पानी का बिल, बिजली का बिल, कार का फ्यूल, खाने का खर्चा, रहने का खर्चा, EMI और न जाने कितने खर्चे|

तीसरा का अर्थ है एसेट “संपत्ति” जो आपके जेब में पैसा डाले| बिना किसी काम के| जैसे आपकी कोई प्रॉपर्टी हो जिससे आपको किराया मिल रहा है, आप की खेती हो, जिससे आप को सालाना आमदनी मिल रही हो, भले ही आप ने उसे किराए पर दे रखा हो, म्यूच्यूअल फंड्स, इन्वेस्टमेंट|

चौथा होता है लायबिलिटी, लायबिलिटी का अर्थ यह है कोई भी ऐसी चीज जो आपकी जेब से हमेशा पैसा निकालती है, आपकी ऐसी जिम्मेदारी जो आपसे हमेशा खर्च कराती है |

अब हम देखते हैं कि 3 लोग एक गरीब आदमी, एक मध्यमवर्गीय, और एक अमीर आदमी

इन तीनों के पैसे खर्च करने का तरीका क्या है? 

गरीब आदमी - इसके  पास जो भी पैसा आता है वह सारा पैसा उसके खर्चों में चला जाता है| वह पैसा आते से ही कुछ दिन में हैंड टू माउथ हो जाता है| और वह खर्चों को कट भी नहीं कर सकता 

मिडिल क्लास - इन लोगों के पास जो पैसा आता है, जॉब से या कोई छोटे बिजनेस से, उसमें से ज्यादातर पैसा हमारे सामान्य खर्चों के साथ हमारी लायबिलिटी में चला जाएगा, जैसे कि कोई कार लोन है, कोई कर्जा है, क्रेडिट कार्ड का बिल है, यहां तक कि घर का लोन|

मिडिल क्लास लोगों की प्रॉब्लम यह है कि वह अपने घर और कार को भी अपना एसेट समझते हैं जबकि वह उनकी लायबिलिटी होती है|

लायबिलिटी के  बात जो पैसा बचता है वह मिडिल क्लास व्यक्ति अपने सामान्य एक्सपेंसेस में निपटा देता है|

FAISHION, बिजली का बिल, फूड, परचेजिंग

मिडिल क्लास के लिए पैसा खर्च करने का तरीका ही उसकी सबसे बड़ी समस्या होती है|

अमीर लोग - वह अपना पैसा कैसे मैनेज करते हैं?

इन लोगों ने अपने असेट्स को इतना बढ़ा दिया है कि वह उनसे अपने खर्च से ज्यादा कमाते हैं| उनके आमदनी के सोर्स  एक से ज्यादा होते हैं| बचे हुए पैसे को वह अपने असेट्स को बढ़ाने में लगा देते हैं|

अब आपको डीसाइड करना है कि आप अपने पैसे किस तरह से मैनेज करेंगे?

मिडिल क्लास की तरह, गरीब की तरह या अमीर की तरह?



Differences Between Middle Class And Rich People,

Problems faced by an Indian middle class family,

Income Inequality,

know what is difference between rich and poor thinking, 

rich vs poor in hindi,

Rich vs Poor thinking in Hindi, 

गरीब VS अमीर,

इनकम, अमीर कैसे बनें, अमीर बनने का तरीका, how to earn, kaise online income, , learning source of income, job junction, habits, rich, rich men, habits, rich men, work, top secret, success, secrets, how to get success,



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ