अब से रहेगा सेहत का रिकॉर्ड भी ऑनलाइन, एक कार्ड के अंदर रहेगी आपकी सेहत से जुडी सारी जानकारी 

अब से रहेगा सेहत का रिकॉर्ड भी ऑनलाइन, एक कार्ड के अंदर रहेगी आपकी सेहत से जुडी सारी जानकारी

74वां स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन (NDHM) की शुरुआत की। उन्होंने अपने सन्देश में कहा कि यह देश के स्वास्थ्य क्षेत्र में क्रांतिकारी और अनुठा कदम साबित होगा। इस मिशन के तहत देश के हर नागरिक को एक डिजिटल कार्ड मिलेगा। इस कार्ड से आपको कई तरह की सुविधाएं मिलेंगी। जैसे- आपको क्या बीमारी है? आपने पहले किस डॉक्टर को दिखाया? आपने क्या जांच कराई? आपको क्या इलाज दिया गया?



इस योजना से कोई भी अपनी इच्छा से जुड़ सकता है। जो व्यक्ति इससे जुड़ेगा उसकी प्राइवेसी का विशेष ध्यान रखा जाएगा। पैसा जमा करना हो, अस्पताल में पर्ची बनवाने की भागदौड़ हो, इन परेशानियों से निजात मिलेगी। यह सब एक डिजिटल कार्ड से संभव हो सकेगा। सरकार ने एनडीएचएम(NDHM)के लिए 470 करोड़ रुपए के फंड को मंजूरी दी है। 

योजना के मुख्य बिंदु 

  • हेल्थ आईडी(Health ID): बाकि देश के हर व्यक्ति को एक हेल्थ आईडी कार्ड मिलेगा। इस आईडी कार्ड मैं आपकी पूर्ण जानकारी रहेगी आपके तमाम पर्चों को सहेजने के झंझट से छुटकारा मिलेगा । आप चाहें तो इसे आधार कार्ड से भी लिंक करवा सकते हैं।
  • पर्सनल हेल्थ रिकॉर्ड(Personal health record): इसमें आपकी उम्र, ब्लड ग्रुप, एलर्जी, बीमारी, सर्जरी, परिवार में कोई रोग हो तो उसकी जानकारी रहेगी। इससे डॉक्टर को आपकी Health History जानने और उसके हिसाब से इलाज करने में आसानी होगी। यह रिकॉर्ड आप खुद update कर सकेंगे। आपकी इजाजत के बगैर कोई इसे देख नहीं सकेगा।
  • डिजी डॉक्टर(Digi Doctor): इसमें डॉक्टर अपना रजिस्ट्रेशन करा सकेंगे उनकी भी एक यूनिक आईडी होगी। वे अपनी जानकारी खुद अपडेट कर सकेंगे। वे चाहें तो अपना Mobile Number भी दे सकते हैं। उन्हें फ्री डिजिटल सिग्नेचर की सुविधा भी दी जाएगी। इसका इस्तेमाल वे मरीज को लिखे ऑनलाइन पर्चे पर कर सकते हैं।
  • हेल्थ फैसेलिटी रजिस्ट्री (Health facility registry): इसमें हॉस्पिटल, क्लीनिक, लैब और स्वास्थ्य सेवा से संबंधित दूसरी फैसेलिटी जुड़ सकती हैं। इससे देश के व्यक्तिओं की बीमारी की जानकारी तेजी के साथ एक प्लेटफॉर्म पर मिल सकेगी। यह प्लेटफॉर्म वेब और ऐप दोनों फॉर्मेट में होगा।
दो सुविधाएं बाद में जोड़ी जाएंगी

  • टेलीमेडिसिन: आप इस प्लेटफार्म पर रजिस्टर्ड किसी भी डॉक्टर से ऑनलाइन इलाज करवा सकेंगे।
  • ई-फार्मेसी: इस कार्ड के जरिए ऑनलाइन दवाएं बुलवा सकेंगे।
इस योजना का उद्देश्य क्या है?
पूरे देश का एक डिजिटल हेल्थ सिस्टम बनाना इसका मुख्य उद्देश्य है। इससे हेल्थ डेटा को मैनेज किया जा सकेगा।हेल्थ डेटा मैनेज करने से सरकार को देश के अंदर सबसे ज्यादा कोंसी बीमारी चल रही है उसकी जानकारी भी आसानी से मिल सकती है उससे सरकार स्वास्थ्य से जुड़ी योजनाएं बनाने और उन्हें लागू करने में मदद मिलेगी


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ