कैसे पहचाने प्रेगनेंट हैं आप .. बिना टेस्ट जाने…  ये लक्षण देते हैं गर्भधारण के संकेत  

कैसे पहचाने प्रेगनेंट हैं आप .. बिना टेस्ट जाने…  ये लक्षण देते हैं गर्भधारण के संकेत  

18 Week Pregnancy Symptoms in Hindi :Pregnancy Symptoms in Week 18,  Garbhavastha Ke atharhva hafte Ke Lakshan - प्रेगनेंसी का अठारहवां हफ्ता और  लक्षण | Navbharat Times

जानिए, क्या हैं गर्भावस्था में पहले हफ्ते के संकेत

 

गर्भधारण होते ही उसके बारे में जानकारी लगना ज़रूरी है| यदि आप शादीशुदा हैं तो ऐसे लक्षणों के बारे में ज़रूर जान लें जो पहले हफ्ते में ही प्रेगनेंट होने के संकेत दे देते हैं| 

कई बार गर्भवती महिलाओं को प्रेग्नेंट होने की जानकारी ही नहीं हो पाती। लेकिन यह आवश्यक है कि उन अंकित को जाना जाए और उसी के मुताबिक, रहन-सहन भोजन पानी   का प्रबंधन किया जाए ।  यदि आप इन संकेतों को नजरअंदाज करती हैं तो  कई बार गंभीर परिणामों का भी सामना करना पड़ता है।

कुछ  वूमेंस को प्रेगनेंसी के पहले  हफ्ते में कोई  सिम्टम्स दिखाई नहीं देते हैं बल्कि कुछ में थकान, स्तन  को छूने पर दर्द होना और हल्‍की ऐंठन महसूस होती है।

बाजार में उपलब्ध टेस्ट किट गर्भ धारण करने के अगले महीने से ही काम करती हैं।

मतलब यह कि शुरुआती चरण में आपको  प्रेग्नेंट में होने की जानकारी ही नहीं होती,  इस कारण आप न तो यह जानते हैं कि क्या खाना है, क्या  सावधानियां रखनी है आदि।

पीरियड्स बंद होने को गर्भावस्था का लक्षण माना जाता है।

कॉन्स्टिपेशन (कब्ज) की  प्रॉब्लमहोने लगती है।

ये होते हैं गर्भावस्‍था के 16 प्रारंभिक लक्षण | 16 Early Signs of Pregnancy  - Hindi Boldsky

कमर दर्द ,वेरिकोज वेंस की समस्‍या 

मॉर्निंग सिकनेस और थकान 

उल्‍टी या चक्‍कर, जी मिचलाना 

पोस्‍टपार्टम डिप्रेशन 

बाइपोलर डिप्रेशन 

कई बार पेशाब जाना 

सिर दर्द के साथ ही पैरों में सूजन 

इंप्‍लांटेशन ब्‍लीडिंग (प्रेगनेंसी के शुरुआती संकेत में से एक ) ये पीरियड्स  की तरह नहीं होता है। इसमें हल्‍की ब्‍लीडिंग/रक्त स्राव होती है जिसमें खून का एक धब्‍बा या गुलाबी  ब्लीडिंग होता है। कुछ घंटों या कुछ दिनों तक स्‍पॉटिंग/ धब्बे हो सकती है।

हल्‍की ऐंठन

भ्रूण के गर्भाशय की  सत्ता से जुड़ने पर ऐंठन होती है। 

महिलाओं को पेट, पेल्विस या कमर के निचले हिस्‍से में ऐंठन  का एहसास हो सकता है। 

इसमें खिंचाव, टेंशन गुदगुदी या खुजली जैसा लग सकता है। 

खून का उत्‍पादन बढ़ने से प्रेग्‍नेंसी में सूजन पैदा होती है। प्रेगनेंट महिलाओं को चेहरे, हाथों, टांगों और एड़ी में सूजन ज्‍यादा  इफेक्ट करती है।

यूट्राइन लाइनिंग रिलीज होने पर गर्भाशय/ओवरी  में खिंचाव आता है जिसकी वजह से कमर और पेट में दर्द/ पेन होने लगता है। हार्मोंस में उतार चढाव के कारण पेट फूलने/ बढ़ने की शिकायत भी हो सकती है। 

मूड स्विंग्‍स  इस दौरान आपके मूड में परिवर्तन भी देखने को मिल सकता है|

प्रेगनेंसी के शुरुआती लक्षण मासिक धर्म आने  की तरह ही होते हैं इसलिए पहले  हफ्ते में कई महिलाओं को यह पता ही नहीं चल पाता है कि वो प्रेगनेंट/ गर्भवती हैं।

प्रेग्नेंसी/ गर्भावस्था के  समय गर्भवती महिला के मुंह का स्वाद कड़वा हो जाता है। ऐसे में उसे भोजन के बजाए सिर्फ खट्टी चीजों का ही स्वाद/ टेस्ट सही लगता है।

प्रेग्नेंसी टेस्ट किट आकलन करने का सबसे सटीक तरीका  माना जाता है|  

लेकिन कुछ लक्षणों के आधार पर आप मिस्ड पीरियड से भी पहले आपको प्रेग्नेंट होने का एहसास  कर सकते हैं। 

गर्भावस्था का एक प्रारंभिक संकेत है हल्के ऐंठन का अनुभव । ये आपके पीरियड्स/माहवारी के दौरान होने वाली ऐंठन के समान होगी, हलाकि ये आपके निचले पेट या पीठ के निचले हिस्से में होगी।

बॉडी टेम्परेचर पर अगर ध्यान दें तो उसमें परिवर्तन का पता लगाया जा सकता है। ओव्यूलेशन से पहले, शरीर का तापमान/टेंपरेचर बढ़ जाता है और आपके पीरियड चक्र के बाद  फिर से सामान्य/ नॉर्मल हो जाता है। 

लेकिन गर्भावस्था के दौरान, शरीर का तापमान/ बॉडी टेंपरेचर ऊंचा ही रहता है। यह गर्भावस्था के दौरान  एक हार्मोन प्रोजेस्टेरोन के उच्च स्तर के कारण होता है, जिससे शरीर के तापमान/ टेंपरेचर में  बढ़ोतरी होती है। 

यदि आपको लंबे समय से शरीर का तापमान 20 दिनों के बाद ओव्यूलेशन से बढ़ रहा है, तो यह गर्भधारण का प्रतीक है।

गले में खराश,शुष्की भारी स्तन/ब्रेस्ट या गहरे रंग के आइसोल्स गर्भावस्था/ प्रेगनेंसी के लक्षण हैं, जो आपको मिस्ड पीरियड से एक  हफ्ते पहले ही दिख जाएंगे। 

गर्भाधान के बाद एस्ट्रोजेन के स्तर में  बढ़ोतरी के साथ, महिलाओं को स्तनों/ब्रेस्ट्स में दर्द/पेन  महसूस होता है।

इस दौरान निपल्‍स गहरे रंग के लगने लगते हैं और खुजली भी होती है, आप मरोड़ या चुभन का एहसासकरने लगते हैं।  हालांकि, यह सब आपके पीरियड के लक्षणों से बहुत  भिन्न नहीं हैं, परन्तु वे आपके पीरियड मिस होने के बाद भी रहेंगे।

गर्भावस्था के दौरान छोटे-छोटे काम करने के बाद थकान महसूस होना और प्रोजेस्टेरोन के स्तर का बढ़ जाना आपकी अत्यधिक  नींद की वजह हो सकता है और यह सब पहले तीन महीने तक महसूस होता रहेगा। 

बढ़ते भ्रूण  को हेल्प करने के लिए शरीर अधिक  ब्लड का  प्रोडक्शन करना शुरू कर देता है, जिसके  नतीजे में थकावट बढ़ जाती है। 

छोटी-छोटी बातों पर क्रोध आना भी इसका एक लक्षण हो सकता है। 

दरअसल हार्मोन में  चेंज आपको या तो उत्साहित महसूस करा सकता है या आलसी महसूस करा सकता है।

मासिक धर्म न होने से पहले गर्भावस्था के संकेत और लक्षण क्या है

क्या मासिक धर्म के निर्धारित समय पर ना होने से कितना पहले गर्भावस्था के लक्षणों का अनुभव किया जा सकता है?

मासिक धर्म के होने में देरी के कारण  क्या-क्या हो सकते हैं?

पी.एम.एस और गर्भावस्था के लक्षणों के बीच क्या अंतर है?

क्या ऐसा हो सकता है कि मासिक धर्म ना हो लेकिन गर्भधारण भी न हो?

क्या ऐसा हो सकता है कि मासिक धर्म हो लेकिन गर्भधारण भी हो जाए?

होम प्रेगनेंसी टेस्ट लेने के लिए कितने समय तक इंतजार करना चाहिए?

गर्भावस्था के लक्षणों का अनुभव होना कब शुरू होता है?

गर्भावस्था के हॉर्मोन  आपके टेस्ट को चेंज करते हैं और कुछ ख़ास महक से  आप चिढ़  भी सकते

चक्कर आना और बेहोशी का एहसास कई गर्भवती महिलाओं में होता है। रक्त वाहिकाएं चौड़े होने के कारण ब्लड प्रेशर में कमी होती है और चक्कर व असंतुलन महसूस होता है।

हॉर्मोन आपके अंदर नए जीव के लिए जगह बनाने का काम करते हैं  इससे मासिक धर्म के निर्धारित समय से पहले आपकी रीढ़ की हड्डी के क्षेत्र में दर्द हो सकता है।

गर्भाधान के बाद, ग्रीवा का श्लेम अत्यधिक गाढ़ा और मलाई जैसा दिखाई देता है पेशाब के समय आपको चुभन की अनुभूति हो सकती है या आपकी योनि के चारों ओर खुजली और सूजन हो सकती है।

कुछ महिलाओं में मासिक धर्म ना होने से पहले अत्यधिक लार का उत्पादन/प्रोडक्शनहोता है। यह  स्टेज आमतौर पर टाइलिस ग्रेडिडारम के नाम से  पुकारी जाती है जो मॉर्निंग सिकनेस और छाती में जलन से संबंधित है। मतली  आने के कारण मुँह में अतिरिक्त लार का निर्माण होता है।

गर्मी महसूस करना : अचानक गर्मी लगना गर्भावस्था का शुरुआती लक्षण भी हो सकता है।

यदि आपको  एहसास होता है कि गर्मी की लहर आपके शारीरिक अंगों को जकड़ रही है, तो यह आपके गर्भवती होने का संकेत हो सकता है।

धब्बे, मुंहासे और फुंसी हॉर्मोन के स्तर में वृद्धि होने के  कारण अचानक से यह बहुत ज्यादा बढ़ सकते हैं। खैर, इसका उल्टा भी हो सकता है मुंहासे बिलकुल साफ भी हो सकते हैं और यह  लक्षण और संकेत हो सकता है कि गर्भावस्था शुरू हो गई है।

गर्भावस्था के शुरुआती हफ्तों में अजीब सपने आना गर्भावस्था का लक्षण है दरअसल हॉर्मोन विचित्र तरीके से काम करते हैं।

 


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ