2025 तक अरबों डॉलर का हो जाएगा इंडियन गेमिंग मार्केट

भारतीय गेमिंग बाजार 2025 तक 3.3.9 बिलियन तक पहुंचने के लिए तैयार है
40 प्रतिशत हार्डकोर गेमर्स औसतन 230 रुपये प्रति माह गेमिंग शौक पर खर्च करते हैं
फोन के सस्ते होने का फायदा गेमिंग मार्केट को मिल रहा है
इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया (IAMAI) की एक नई रिपोर्ट से पता चलता है कि इंडियन गेमिंग मार्केट 2025 तक 93.9 बिलियन (मूल्य में) तक पहुंचने के लिए तैयार है, जिसमें 40 प्रतिशत हार्डकोर गेमर्स औसतन 230 रुपये खर्च करते हैं। 

online gaming

कोरोना महामारी ने डिजिटल गेम के जैविक विकास को तेज कर दिया है, मोबाइल ऐप डाउनलोड में 50 प्रतिशत की वृद्धि की है और उपयोगकर्ता जुड़ाव में 20 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि बढ़ते गेमिंग समय के कारण भारत में हार्डकोर गेमर्स के विकास में तेजी आई है और कैजुअल गेम भी भारत में सबसे लोकप्रिय शैली है।

भारत में इस समय 43 करोड़ मोबाइल गेमर्स हैं और 2025 तक यह संख्या बढ़कर 65 करोड़ हो जाएगी। वर्तमान में देश के 1.6 बिलियन डॉलर के गेमिंग बाजार में 90 प्रतिशत से अधिक का योगदान करते हुए मोबाइल गेमिंग का दबदबा है।

गेमिंग सेक्टर में हो रहा है बड़ा निवेश
देश में स्मार्टफोन की संख्या तेजी से बढ़ रही है, भारतीय गेमिंग मोबाइल गेमिंग बैंडवागन में शामिल हो गया है, बड़े प्लेटफॉर्म के लिए बड़े कंसोल और पीसी गेम विकसित किए जा रहे हैं। पिछले छह महीनों में इस क्षेत्र में निवेश किए गए लगभग 11 बिलियन के साथ यह क्षेत्र भी निवेश को आकर्षित कर रहा है।

सस्ता फोन होने का फायदा
स्मार्टफोन सस्ते हो गए हैं और मजबूत रोबोट पैक कर रहे हैं जो ऐसे गेम चलाने के लिए सुसज्जित हैं जिनके लिए मध्यम से उच्च विनिर्देश की आवश्यकता हो सकती है। इसने लोगों को ज्यादा इमर्सिव गेमिंग दी है।

Priyam Mishra



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


    श्रेणियाँ