दो-चार बूंद ख़ून की तन मे तो छोड़िये – दिनेश मालवीय “अश्क”

Squeezeus-somuch-Newspuran-01

दो-चार बूंद ख़ून की तन मे तो छोड़िये
इतना हमे आलाहुजूर मत निचोड़िये।

नारियल होता है बड़ा शुभ चढ़ाइये
पर हमारे सिर पे इसे तो न फोड़िये।

छूट जाएँ आपके पीछे सभी अपने
आप आँखें मूँदकर सरपट न दौड़िये।

आदमी हम भी हैं, फटेहाल ही सही
देख हमको नाक-भौं यूँ न सिकोड़िये।

आपके जो भी सियासी जोड़तोड़ हों
जात-पात धर्म मे हमको न तोड़िये।

जिस जगह कोई भी भेदभाव न रहे
हो सके तो मुल्क को उस सिम्त मोड़िये।

आपको सबकी है फिक्र, आप हैं सबके
जाने दें, बेकार की बातें ये छोड़िये।

DineshSir_05_A


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ