MP: डीएफओ और एसडीओ को बचाने के लिए डिप्टी रेंजर को बनाया बलि का बकरा.. गणेश पाण्डेय 

MP: डीएफओ और एसडीओ को बचाने के लिए डिप्टी रेंजर को बनाया बलि का बकरा.. गणेश पाण्डेय
GANESH PANDEY 2भोपाल: एक जंगल माफिया द्वारा 34 हेक्टेयर वन भूमि पर कब्जा करने शिकायतकर्ता सरपंच आशा देवी के पति संतराम धौलपुरिया के मामले में फील्ड के अदना कर्मचारी डिप्टी रेंजर एस के दुबे को सस्पेंड किया गया है. निलंबन की इस कार्रवाई से सवाल उठने लगे हैं कि क्या एक डिप्टी रेंजर ही इसके लिए दोषी है ? उन वरिष्ठ अधिकारियों पर कार्रवाई क्यों नहीं की गई, जिन्होंने वन भूमि पर काबिज माफिया को हटाने की कार्रवाई नहीं की. यदि समय रहते हुए वन माफिया और उसके परिवार के खिलाफ कार्रवाई की गई होती तो शायद संतराम धौलपुरिया की मौत नहीं होती.

मृतक संतराम धौलपुरिया ने साल भर पहले वन विकास निगम के एमडी, क्षेत्रीय मुख्य महाप्रबंधक यूके सुबुद्धि डिविजनल मैनेजर आदर्श श्रीवास्तव और एसडीओ धर्मेंद्र भदौरिया को शिकायत की थी कि वन माफिया फकीरचंद और उनके परिजनों द्वारा 34 हेक्टेयर से अधिक वन भूमि पर कब्जा कर मकान बनाकर खेती भी कर रहे हैं. तब संतराम धौलपुरिया के शिकायत पर विकास निगम के आला अधिकारी चुप्पी साधे बैठे रहे.


वन माफिया द्वारा जब ट्रैक्टर से कुचलकर संतराम की हत्या कर दी गई तब विभाग के अधिकारी हरकत में आए. संतराम की हत्या के बाद कलेक्टर डॉ. पंकज जैन और एसपी विनायक वर्मा ने वन माफिया फकीरचंद के सामान को नेस्तनाबूद कर दिया. पूरी कार्यवाही के दौरान वन विकास निगम के डिविजनल मैनेजर आदर्श श्रीवास्तव कहीं नजर नहीं आए. यहां तक कि वे कलेक्टर के बुलावे पर भी मुरवास विदिशा नहीं पहुंचे.


* कार्रवाई के नाम पर सेवाएं लौट आई


सेवानिवृत्त प्रधान मुख्य वन संरक्षक आरडी शर्मा के अनुसार इस पूरे घटनाक्रम में वन विकास निगम को डिविजनल मैनेजर आदर्श श्रीवास्तव को कारण बताओ नोटिस और एसडीओ के खिलाफ लापरवाही का मामला मानते हुए निलंबन की कार्रवाई किया जाना चाहिए था. निगम ने डीएफओ एवं डिविजनल मैनेजर आदर्श श्रीवास्तव को बचाने की मंशा से उनकी सेवाएं मुख्यालय को वापस कर निलंबन की कार्रवाई से बचा लिया. डिप्टी मैनेजर धर्मेंद्र भदोरिया के खिलाफ भी कोई कार्यवाही नहीं हुई.


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ