NEET JEE Exam 2020: लाखों students पर होगा ऑड ईवन फॉर्मूला, नए नियम और सब्धानियों से होंगे एग्जाम 

NEET JEE Exam 2020: लाखों students पर होगा ऑड ईवन फॉर्मूला, नए नियम और सब्धानियों से होंगे एग्जाम 

NEET JEE Exam 2020: Examination will be conducted on millions of students, exam will be done with new rules and regulations

देशभर में NEET JEE की परीक्षाएं टालने को लेकर चल रही अटकलों के बीच नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (National Testing Agency) NTA के डायरेक्टर विनीत जोशी ने स्टूडेंट्स को सुरक्षित एग्जाम का भरोसा दिलाया है.खतरनाक महामारी के बीच जेईई मेन (JEE Main) और नीट (NEET) की परीक्षाएं आयोजित होने को लेकर कैंडीडेट्स के आसमंजस को एनटीए डायरेक्टर ने क्लियर करते हुए कहा है कि एग्जाम निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार ही आयोजित होंगी.

परीक्षा के दौरान एग्जाम सेंटर्स पर पूरी एहतियात बरती जाएगी और हर मुमकिन कोशिश की जाएगी जिससे students को किसी भी प्रकार का खतरा न हो| हालांकि उन्होंने ये भी साफ कर दिया कि इन परीक्षाओं में हिस्सा लेने वाले उम्मीदवारों को किसी तरह की चिंता करने की जरूरत नहीं है|

ऑड ईवन फॉर्मूला ऐसे होगा लागू
जेईई मेन एग्जाम (JEE Main Exam) को लेकर नेशनल टेस्टिंग एजेंसी के निदेशक विनीत जोशी ने कहा, परीक्षा के दौरान ऑड ईवन फॉर्मूला इस्तेमाल किया जाएगा. इसके तहत जो कैंडीडेट्स सुबह की शिफ्ट में आएंगे उन्हें ऑड नंबर की मशीन दी जाएगी, जबकि शाम को परीक्षा देने वाले उम्मीदवारों को ईवन नंबर की. अगर जो students समय के पहले सेंटर आया जाता है तो उसके बैठने की व्यवस्था बहार अलग से की जाएगी और उधर भी सरकार द्वारा दी गयी सभी guideline का पालन किया जायेगा  

कैंडिडेट्स के आवेदन के अनुसार 1 से 6 सितंबर तक होने वाली जेईई मेन की परीक्षा में करीब 10 लाख स्टूडेंट्स हिस्सा लेंगे, वहीं नीट का एग्जाम 13 सितंबर को होगा, जिसमें करीब 15 लाख कैंडीडेट्स शामिल होने की उम्मीद है.

सबकुछ सैनिटाइज
NEET JEE की होने वाली सितंबर में परीक्षा को लेकर अपनी योजना को साझा करते हुए विनीत जोशी ने कहा, Examination centers पूरी तरह सैनिटाइज किए जाएंगे. एग्जाम शुरू होने से पहले ही फर्नीचर, फ्लोर, दीवार, लिफ्ट, कंप्यूटर सभी कुछ सैनिटाइज होगा.

उन्होंने साथ ही कहा, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने पहले ही विस्तृत सेफ्टी गाइडलाइंस जारी कर दी हैं.इसके तहत एक कमरे में जिधर 24 students बैठते थे उसकी जगह अब केवल 12 students ही रहेंगे और इस दौरान पूरे समय सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पूरी तरह पालन किया जाएगा.

बहुत कुछ बदला रहेगा इस बार एग्जाम सेंटर में ?
  • NEET और JEE के दौरान हर बार तलाशी बहुत सख्त रहती है । इस बार हाथ से तलाशी नहीं होगी बल्कि हैंडहेल्ड मशीन से होगी। यह इस बार का सबसे बड़ा बदलाव होगा, जो छात्रों को एग्जाम सेंटर पर देखने को मिलेगा।
  • NEET में एक रूम में 24 की जगह 12 उम्मीदवार बैठेंगे। उम्मीदवारों के बीच छह फीट की दूरी तय की गई है। JEE में एक-एक सीट छोड़कर छात्रों को बिठाया जाएगा। सेंटर पर हर उम्मीदवार को नया मास्क और ग्ल्ब्ज दिए जाएंगे।
  • JEE की एक पाली में 1.32 लाख की जगह अब 85 हजार उम्मीदवार बैठेंगे। कुल शिफ्ट 8 से बढ़ाकर 12 कर दी गई है। उन्हें पानी की पारदर्शी बोतल, सेनेटाइजर की छोटी बोतल ले जाने की अनुमति होगी।
  • एग्जामिनेशन हॉल के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करने के लिए उम्मीदवारों की इंट्री और एक्जिट एक साथ नहीं होगी। इंतजार कर रहे स्टूडेंट्स सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें, इसके लिए एग्जाम हॉल के बाहर भी व्यवस्था रहेगी।


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ