junk food जंक फूड से आता है मोटापा, FSSAI ने लिया बड़ा फैसला

 junk food जंक फूड से आता है मोटापा, FSSAI ने लिया बड़ा फैसला
FSSAI ने देश में खासकर छोटे बच्चों में जंक फूड की बढ़ती मांग पर चिंता व्यक्त की है। एफएसएसएआई ने ऐसे उत्पादों की पैकेजिंग में बदलाव किया है जहां निर्देश छपे थे। जंक फूड नियमन के लिए उत्पादों पर पोषण संबंधी जानकारी उपलब्ध कराने का निर्णय लिया गया है। एफएसएसआई के सीईओ अरुण सिंघल ने सोमवार को कहा कि उपभोक्ताओं को स्वस्थ भोजन विकल्प चुनने में मदद करने के लिए खाद्य पदार्थों के फ्रंट-ऑफ-पैकेज (एफओपी) लेबलिंग शुरू करने का निर्णय लिया गया है। इसका मतलब है कि उत्पादों की पैकेजिंग के साथ-साथ पोषण संबंधी जानकारी सामने की तरफ छपी होगी। प्रासंगिक जानकारी उत्पाद के पैकेट पर ऐसी जगह मुद्रित की जाएगी जहां ग्राहक पैकेट के पीछे के बजाय इसे आसानी से देख सके।

junk food

अरुण सिंघल ने कहा कि आईआईएम अहमदाबाद को उपभोक्ताओं के हित में एफओपी लेबल के रूप में एक सर्वेक्षण करने के लिए कहा गया है। आईआईएम ने काम शुरू कर दिया है। उन्होंने आगे कहा कि सर्वे के बाद FSSAI नियमों का मसौदा तैयार करेगा. एफएसएसएआई द्वारा भारत में इसी तरह के लेबलिंग पर बोलते हुए सीईओ ने कहा कि देश में युवाओं और बच्चों में कुपोषण के साथ मोटापा एक बड़ी समस्या बनता जा रहा है। आज के समय में पैकेट के खाने की मांग बढ़ गई है। स्वास्थ्य पर पैकेट फूड के प्रभाव के बारे में सरल तरीके से जानकारी देने की आवश्यकता है। इससे उपभोक्ता अपने लिए सही भोजन चुन सकेंगे।


सीईओ सिंघल ने यह भी कहा कि एफओपी लेबल का उपयोग करने वाले कई देशों में जंक फूड की खपत में कमी आई है। उन्होंने कहा कि कई बार संबंधितों से बात की जा चुकी है। उद्योग जगत और उपभोक्ताओं के साथ विस्तृत विचार-विमर्श के बाद अधिकांश मुद्दों पर सहमति बन गई है, जो शुरू में इस मुद्दे पर अलग-अलग विचार रखते थे। उन्होंने कहा कि तकनीकी मुद्दों को सुलझा लिया गया है, लेकिन एफओपी लेबल का प्रारूप ही एकमात्र मुद्दा बचा हुआ है। इसके लिए आईआईएम अहमदाबाद को सर्वे करने को कहा गया है। इस पर काम शुरू हो चुका है। जल्द ही नियमावली तैयार की जाएगी।


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


    श्रेणियाँ