PM Modi:-  ओडिशा-बंगाल के ‘यास’ प्रभावित इलाकों का आज करेंगे दौरा, ममता भी होंगी समीक्षा बैठक में शामिल

PM Modi:-  ओडिशा-बंगाल के ‘यास’ प्रभावित इलाकों का आज करेंगे दौरा, ममता भी होंगी समीक्षा बैठक में शामिल

 प्रधानमंत्री मोदी आज चक्रवाती तूफान 'यास' से प्रभावित ओडिशा और पश्चिम बंगाल के विभिन्न छेत्रों का दौरा करेंगे. तूफ़ान से दोनों राज्यों में होने वाले नुकसान की समीक्षा भी करेंगे. बताया जा रहा है इस बैठक में ममता बेनर्जी भी शामिल रहेंगी.  प्रधानमंत्री सबसे पहले ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर जायेंगे, वहां एक समीक्षा बैठक करेंगे. इसके बाद वह ओडिशा के बालासोर, भद्रक और पश्चिम बंगाल के पूर्वी मिदनापुर जिलों के प्रभावित छेत्रों का हवाई दौरा करेंगे. दिल्ली आने से पहले पीएम पश्चिम बंगाल के कलाईकुंड़ा में एक समीक्षा बैठक करेंगे.

 

पीएम मोदी

 

बुधवार को चक्रवाती तूफान ‘यास’ का देश के पूर्वी तटों से टकराने से भारी बारिश हुई. तूफ़ान के कारण 145 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चली जिससे कई मकान क्षतिग्रस्त हो गए,बहुत सी जगह पानी भर गया. इस तूफ़ान से चार लोगों की मौत हो गयी जबकि इसके कारण ओडिशा, पश्चिम बंगाल और झारखंड में 21 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया. चक्रवाती तूफान ‘यास’ के कारण ओडिशा में तीन और पश्चिम बंगाल में एक व्यक्ति की मौत हो गयी. पश्चिम बंगाल सरकार ने दावा देते हुए कहा है की इस तूफ़ान के कारण कम से कम एक करोड़ लोग प्रभावित हुए हैं. ताउते के बाद एक सप्ताह के भीतर देश के तटों से टकराने वाला ‘यास’ दूसरा चक्रवाती तूफान है.

 

सीएम ममता भी रहेंगी शामिल 
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भी आज तूफान यास से प्रभावित छेत्रों का दौरा करेंगी. वह आज उत्तर 24 परगना के हिंगलगंज, दक्षिण 24 परगना के सागरद्वीप और पूर्वी मिदनापुर के दीघा का दौरा करेंगी. इसके बाद वह पश्चिम मिदनापुर के कलाईकुंडा में पीएम मोदी के साथ समीक्षा बैठक में शामिल होंगी.  बैठक दोपहर 2:15 से 2:30 बजे तक चलेगी.

 

तूफ़ान आने से एक दिन पहले पीएम मोदी इसके व्‍यापक प्रभावों की समीक्षा के लिए एक बैठक की आयोजित की. जिसकी अध्यक्षता उन्होंने खुद करी.   इस बैठक में अधिकारियों ने चक्रवाती तूफान से निपटने की तैयारियों के बारे में बताने के साथ उससे होने वाले नुकसान का आकलन भी दिया. चर्चा के दौरान एनडीआरएफ की लगभग 106 टीमों को तैनात किया गया था. पश्चिम बंगाल/ओडिशा में से प्रत्येक में तैनात की गई 46 टीमों ने 1000 से भी अधिक व्यक्तियों की जान बचाई और 2500 से भी अधिक पेड़ों/खंभों को हटाया जो सड़कों पर गिर गए थे, जिनकी वजह से वहां आवागमन बाधित हो गया था.

Rajesh Narbariya



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ