मालवा की पहेलियाँ-3

मालवा की पहेलियाँ-3

-दिनेश मालवीय

1.   चार खूँट चौबारा, जीमें खेले दो वणजारा
(चाँद-सूरज)

2.   चार हवेली सोला घर चौसठ कन्या एक ही वर
(पुराना रुपया, आना पैसा)

3.   छे पग ने कमर कूबड़ी
(मकोड़ा)

4.   चार पगां को खोटलो लार्यो (बिछायो) बीच बाजार
(बावड़ी)

5.   जरासो घी ने आखो घर लिपि जाय
(दीपक)

6.   चार भई चौरस्या, फूल पड़े एक रास्या
(गाय के स्तन)

7.   चारी भई भोमर भात, वणा का मूंडा पे एक एक लठ्ठ

(पलंग या चारपाई)

8.   जूता के जलेबी लागी, हमने तोड़ी ने तमने चाखी
(जूते की नाल)

9.   जड़ी विका पियूजी दुकाने चाल्या उठ गोरी कमर पे बेठी.

(चाबी)

10.  जाजम बिछई चंदण चोक में, म्हारा से समेटी नी जाय.
(धरती)

11.  जड़ी नाक पे हूँ चढ़ जाऊँ, कान पकड़ तमे पढाऊँ
(चश्मा)

12.  जल भरी झारी म्हारा सिराने धरी

सारी-सारी रात हूँ तो प्यासा मरी.
(इत्र की शीशी)

13.  डाबे जो कंवरे नागणी, नाम नाम झोला खाय
(स्त्री की नाक की नथ)

14.  तीन पगां की टीपू राणी, खावे लाकद्य काडे पाणी
(चरखी)

15.  तू चाल, म्हूं आयो
(द्वार, कपाट)

16.  देल्ली में बेठो नी सायबा डोकरो

पामणा ने नागे आवे बाप जी
(कुत्ता)

17. तीन मईना की डावड़ी, लिकरी छाब्क छिनार
(मिर्ची)

18.  तुम ने तुल की चोरी करी, लीनी मेख चुराय

मिथुन राशि ऎसी करी नगरी दीं जलाय
(राम, रावण, सीता, हनुमान)

19.  तोड़ो तो तोडाय नी, छबल्यो भराय नी.
(आकाश के तारे)

20.  धनेरिया ने धांसी वी, लिक्रयो खड़े खड़े बजार

धमड धमड वा फरे, उद्धंगी विको नाम
(ढोल)

21.  दो अजड किमाड़, दो बजड किमाड, दो नाग लडे

दो दीव बारे राजा की कंवरी न्याव करे.

(मुँह, दांत,कान, आँख और जिव्हा)

22.  नाक काटी नीचे मेल्यो या कई हुई रे पंडित
(घट्टी, खीला,माकड़ी)

23.  धोली डाढी को दोक्रो, बासती पे करवट दे सजनियाँ
(भुट्टा)

24.  धोरो घोड़ो झरमर पूंछ
(मूली)

25.  नाना सा आल्या में गोपाल्यो नाचे
(जीभ)


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ