ध्वनि योग: जीवन बदलने वाला अचूक विज्ञान … P Atul Vinod

ध्वनि योग: जीवन बदलने वाला अचूक विज्ञान … P Atul Vinod

ध्वनी योग मन्त्र और लय योग का जादुई समागम है| जब शब्द और विशिष्ट संगीतमय लयबद्ध ध्वनि आकाश में छोड़ी जाती है तो अद्भुद परिणाम निकलता है| 

ज़रूरी नहीं की मन्त्र के उच्चारण के साथ इंस्ट्रूमेंट्स का सहारा लिया जाए … यदि बीज अक्षरों को लयबद्ध रूप से ख़ास स्वरों के साथ उच्चारित किया जाए तो ये अपने आप में मन्त्र और लय का समागम बन जाता है| 

इंस्ट्रूमेंट भी उच्चारित शब्द के साथ मिलकर ऐसी ध्वनि निकलते हैं जो चमत्कारिक  प्रतिक्रिया लाते हैं| 

कोई भी शब्द ख़ास स्वर व संगीतमय आवृत्ति के कारण ही मन्त्र बनता है| इसके उच्चारण से पैदा होने वाला वाइब्रेशन सब कुछ बदलने की क्षमता रखता है| 

मंत्र के उच्चारण से वेव्स ख़ास तरह की आकृति की रचना करती है.. ये  Photograph of Vibrations ही यंत्र है। 

बाज़ार में मिलने वाले यन्त्र में उकेरी गयी संरचनाएं मंत्र से वातावरण में होने वाले परिवर्तन का स्वरुप है| 

जब मन्त्र उच्चारित होता है तो उसके कंपन से वातावरण की वायु के जरिए जो इमेज बनती है उसे ही चेतना की उच्च अवस्था में डिकोड करके यंत्र बनाए गए हैं|  

ध्वनि योग को समझिये कृष्ण की बांसुरी की ताकत को जानते ही होंगे आप, उनकी बांसुरी की धुन से  गाय बछड़े भी मोहित होकर उनके पास आ जाते थे|

सांप सपेरे की बीन की धुन पर थिरकने लगते हैं|  म्यूजिक और साउंड थेरेपी से आज कितने ही लोग बीमारियों से मुक्ति पा रहे हैं|

वैसे तो शब्द ही ब्रह्म है लेकिन शब्द के साथ जब संगीत की सुर लहरिया जुड़ जाती है तो उनका प्रभाव कई गुना बढ़ जाता है|

ध्वनि तो कमाल ही है … “दीपक राग” और “मेघराग”  के बारे में आप जानते होंगे| 

आकाश से ध्वनी कभी नहीं मिटती … इस ध्वनि को हम कितने ही रूप में बदल देते हैं … यही ध्वनी नेनो चिप में सेव हो जाती है| यही एक जगह से ट्रांसमिट होकर रेडिओ सिग्नल्स के ज़रिये पूरी धरती पर मोबाइल रेडियो और टीवी के ज़रिये फिर अपने मूल फॉर्म में आकर सुनाई देने लगती है| 

दुनिया में कहीं भी कोई गतिविधि होती है तो हम उसे लाइव् टेलेकास्ट से हुबहू देख सकते है स्क्रीन छोटे छोटे कणों से मिलकर बनी होती है वाही कण विडियो को साकार कर देते हैं| कण कण में भगवान है का इससे बेहतर क्या उदाहरण हो सकता है| भगवान के इन कणों को संघनित करने का काम ही ख़ास तरह के मंत्र करते हैं| 

ध्वनि की शक्ति बेमिसाल है मोबाइल अब आवाज़ से OPERATE होते हैं …खिलोने भी VOICE कमांड से चलते हैं…. 

साधना की उच्च अवस्था में आंतरिक चेतना शक्ति ईश्वरीय ध्वनि पैदा करने लगती है चेतना प्रेरक होती है और शरीर यंत्र की तरह काम करता है वो साउंड नाद कहलाता है जो ईश्वरीय शक्ति को आकर्षित करता है| 

ध्वनी योग यूनिवर्स को ख़ास तरह की बीज ध्वनि सिग्नल्स भेजकर उससे पॉजिटिव एनर्जी हासिल करने का विज्ञान है|

 


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ