Varuthini Ekadashi 2021: जानिए कब है वरूथिनी एकादशी और शनि प्रदोष व्रत, यहाँ देखें  शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

Varuthini Ekadashi 2021: जानिए कब है वरूथिनी एकादशी और शनि प्रदोष व्रत, यहाँ देखें  शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

tulsi pooja
   ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, वैशाख महीने  के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि 7 मई को आ रही है. हिंदू धर्म के मुताबिक़  इस एकादशी को वरुथिनी एकादशी व्रत रखने की मान्यता है| 

sawan-me-shiv-pooja

एकादशी

Varuthini Ekadashi 2021: हिंदू ज्योतिष पंचांग के अनुसार, वैशाख मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि 07 मई को पड़ रही है .  इसे वरूथिनी एकादशी भी मानते हैं. जबकि वैशाख मास के कृष्ण पक्ष का प्रदोष व्रत 8 मई को पड़ रहा है. इस दिन शनिवार पड़ रहा है इस लिए इसे शनि प्रदोष व्रत भी कहा जाता हैं. 



वरूथिनी एकादशी का शुभ मुहूर्त क्या है? 

हिंदी पंचांग के अनुसार, वैशाख मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि का आरम्भ 06 मई दिन गुरुवार को दोपहर 02 बजकर 10 मिनट पर हो रहा है दूसरी ओर  इसका समापन अगले दिन 07 मई को दोपहर 03 बजकर 32 मिनट पर होने जा रहा है . भारतीय हिंदू रीति रिवाजों के अनुसार  एकादशी की  उदय व्यापिनी तिथि 07 मई को हासिल हो रही है, अर्थात एकादशी व्रत अर्थात वरुथिनी एकादशी का व्रत 07 मई दिन शुक्रवार को रखा जाएगा.

वरूथिनी एकादशी का पारण कब और कैंसे होगा? 

जो लोग एकादशी का व्रत रखते हैं या रख रहे हैं  और वरूथिनी एकादशी का व्रत रखने जा रहे हैं. जानकारों के अनुसार उन्हें अपने व्रत का पारण 8 मई को सुबह 05 बजकर 35 मिनट से सुबह 08 बजकर 16 मिनट तक कर लेना चाहिए. ऐसा इसलिए क्योकि  एकादशी का पारण द्वादशी तिथि के समापन के पहले कर लेना चाहिए. त्योदशी तिथि में एकादशी व्रत का पारण अशुभ फलदायी  होता है.

वरुथिनी एकादशी का महत्त्व क्या है? 

वरुथिनी एकादशी व्रत भगवान विष्णु को बेहद/अत्यधिक प्रिय है. और जो लोग नियम अनुसार/पूर्वक वरुथिनी एकादशी व्रत रहते हैं, करते हैं. उन पर भगवान विष्णु की अति आशीर्वाद व कृपा होती है. ऐसा माना जाता है कि भगवान विष्णु की आशीर्वाद व् कृपा से उनके समस्त पापों का नाश हो जाता है. सभी मनोकामनाएं/इच्छाएं पूर्ण हो जाती हैं. ऐसे मान्यता है कि एकादशी का व्रत करने वाले व्यक्ति को  मृत्यु के पश्चात भगवान श्री हरि के चरणों/ उनके लोक में स्थान प्राप्त होता है.

 


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ