EDITORMay 3, 20211min146

केंद्र का दावा: चालू रबी मार्केंटिंग सीजन में 70 परसेंट  अधिक गेहूं(व्हीट) की खरीद की

केंद्र का दावा: चालू रबी मार्केंटिंग सीजन में 70 परसेंट  अधिक गेहूं(व्हीट) की खरीद की

 

केंद्र का दावा: चालू रबी मार्केंटिंग सीजन में सरकारी एजेंसियों ने पिछले साल  की समान अवधि की तुलना में लगभग 70 परसेंट  अधिक गेहूं(व्हीट) की खरीद की
सेंट्रल पूल में 02.05.2021 तक लगभग 292.52 एलएमटी गेहूं(व्हीट) की खरीद की गई
चालू रबी मार्केंटिंग सीजन में खरीद कार्य से लगभग 28.80 लाख गेहूं(व्हीट) उत्पादक किसान फायेदे में 

पंजाब के किसान अब गेहूं(व्हीट) बिक्री के एवज में बिना विलम्ब सीधे अपने खातों में भुगतान प्राप्त करे हैं; 17,495 करोड़ रुपए पंजाब के किसानों के खातों में पहले ही सीधे भेजे जा चुके हैं

रबी मार्केटिंग सीजन 2021-22 के दौरान एमएसपी कार्रवाई जोरों पर

चालू रबी मार्केंटिंग सीजन (आरएमएस) 2021-22 में भारत सरकार वर्तमान मूल्य समर्थन योजना के अनुसार न्यूनतम समर्थन मूल्य पर रबी फसलों की खरीद कर रही है। सरकार का दावा है कि  चालू आरएमएस खरीद कार्रवाई से लगभग 28.80 लाख गेहूं(व्हीट) उत्पादक किसान पहले ही फायेदा  प्राप्त कर चुके हैं।

चालू आरएमएस 2021-22 के दौरान लगभग 17,495 करोड़ रुपए पंजाब के किसानों के खातों में भेजे जा चुके हैं। यह पहला मौका है कि पंजाब के किसान गेहूं(व्हीट) बिक्री के एवज में सीधे अपने खातों में भुगतान राशि प्राप्त कर रहे हैं।

गेहूं(व्हीट) खरीद का कार्य पंजाब, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, चंडीगढ़, मध्य प्रदेश, राजस्थान तथा अन्य राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में तेजी से चल रहा है। 02 मई, 2021 तक 292.52 एलएमटी से अधिक की खरीद की गई है। यह पिछले साल  की समान अवधि के 171.53 एलएमटी से लगभग 70 परसेंट  अधिक खरीद है।

02 मई 2021 तक कुल 292.52 एलएमटी गेहूं(व्हीट) खरीद में से पंजाब का योगदान 114.76 एलएमटी (39.23 परसेंट ), हरियाणा 80.55 एलएमटी (27.53 परसेंट ) तथा मध्य प्रदेश का योगदान 73.76 एलएमटी (25. 21 परसेंट ) रहा है।

30, अप्रैल 2021 तक की गई खरीद के लिए पंजाब में लगभग 17,495 करोड़ रुपए और हरियाणा में लगभग 9628.24 करोड़ रुपए सीधे किसानों के खातों में भेजे गए हैं।

सरकार की मने तो इस साल  सार्वजनिक खरीद के इतिहास में एक नया अध्याय जोड़ा गया है, जब हरियाणा और पंजाब ने एमएसपी के अप्रत्क्ष भुगतान से अलग हट कर भारत सरकार के निर्देश के अनुसार सभी खरीद एजेंसियों द्वारा प्रत्यक्ष आन लाइन अंतरण को चुना है। पंजाब और हरियाणा के किसान पहली बार इस फायेदा  का आनंद ले रहे हैं क्योंकि पहली बार किसान गेहूं(व्हीट) बिक्री के एवज में “एक राष्ट्र, एक एमएसपी, एक डीबीटी” के अंतर्गत बिना विलंब प्रत्यक्ष फायेदा  प्राप्त कर रहे हैं।

 

 


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ