श्री राम जन्मभूमि पर मंदिर का निर्माण शुरू…. मिट्टी परिक्षण किया गया…मंदिर के निर्माण में लोहे का उपयोग नहीं

श्री राम जन्मभूमि मंदिर का निर्माण शुरू हो गया है। इंजीनियर अब मंडी स्थल पर मिट्टी का परीक्षण कर रहे हैं। निर्माण कार्य 36 से 40 महीनों में समाप्त होने की उम्मीद है … मंदिर के निर्माण में लोहे का उपयोग नहीं किया जाएगा: मन्दिर निर्माण में लगने वाले पत्थरों को जोड़ने के लिए तांबे की पत्तियों का उपयोग किया जाएगा। निर्माण हेतु 18इंच लम्बी, 3mm गहरी,30 mm चौड़ी 10,000 पत्तियों की आवश्यकता होगी। श्री राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण हेतु कार्य प्रारंभ। मंदिर निर्माण के कार्य में लगभग 36-40 महीने का समय लगने का अनुमान। श्री राम मंदिर भारत की प्राचीन निर्माण पद्धति से किया जाएगा जिसमें लोहे का प्रयोग नहीं किया जाएगा।

#AyodhyaRamMandirUpdate राम मंदिर के निर्माण में सहयोग के लिए राम भक्तों ने अपने खजाने खोल दिए हैं। उसी तर्ज पर, # इंदौर, # मद्यप्रदेश के एक व्यापारी ने राम मंदिर निर्माण के लिए # पोकलेंड मशीन राम जन्मभूमि भेजी है। #RamMandir

#AyodhyaRamMandirUpdate

Ram devotees have opened their treasures to support the construction of Ram temple.

On the same lines, a businessman from #Indore, #MadhyaPradesh has sent the #PokelandMachine to Ram janmabhoomi for construction of Ram temple.

#RamMandir



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ