सावधानः फेसबुक पर आपको भी तो नहीं आ रही अंजान युवती की रिक्वेस्ट?

 सावधानः फेसबुक पर आपको भी तो नहीं आ रही अंजान युवती की रिक्वेस्ट?

कहीं आपके फेसबुक अकाउंट पर किसी अंजान युवती की फ्रेंड रिक्वेस्ट तो नहीं आ रही है। यदि आ रही है तो उसे एक्सेप्ट न करें। जालसाजों ने अब साइबर फ्रॉड का नया तरीका अपना लिया है। वे अब बैंक अधिकारी बनकर नहीं बल्कि फेन.पे, गूगल पे और पेटीएम समेत भारत पे जैसे एप्लीकेशन के कस्टमर केयर प्रतिनिधि बनकर ठगी कर रहे है। इसके अलावा फेसबुक पर फर्जी प्रोफाइल बनाकर ठगी करना भी आम बात हो गई।
facebook

 पहले इस तरह  होती थी वारदात

हाल ही में राजधानी में दिल्ली के तर्ज पर वीडियो कॉलिंग का चलन बढ़ रहा है। वीडियो कॉलिंग में अश्लीलता परोसने के बाद आपका विडियो स्क्रीन रिकॉर्डिंग एप से या फिर  स्क्रीन शॉट लेकर जालसाज आपसे ब्लैकमेलिंग कर सकता है। कोलार में बीएचएमएस डॉक्टर के साथ हजार रुपए की ब्लैकमेलिंग की घटना हो चुकी है।

अभी तक आपने एटीएम में ओटीपी के माध्यम से वारदात के बारे में सुना होगा। इस तरह की वारदात में जालसाज खुद को बैंक अधिकारी बताकर आपके पैसे ट्रांसफर कर लेता था। वह आपके एटीएम को एक्सपायर होने का हवाला देता था और आपसे अपने खाते की जानकारी जुटा लेता था। इसके बाद बात ही बात में ओटीपी पूछकर खाते से या तो ऑनलाइन खरीदारी कर लेता था या फिर पैसे ट्रांसफर कर लेता था। कोविड. 19 और पीएम मोदी के केशलेस ट्रांजेक्शन आह्वान पर अधिकतर लोगों ने एटीएम कार्ड का इस्तेमाल करना बंद कर दिया है। अब लोग गूगल पे, फेन पे, पेटीएम,  भारत पे जैसे एप्प डाउनलोड कर यूपीआई के माध्यम से लेनदेन कर रहे हैं।

गत वर्ष कोरोना संक्रमण में हुए लॉक डाउन में लोग घरों में बैठे थे|  तभी से जालासाजों ने एक नया तरीका इजात कर दिया था।वे चर्चित लोगों के फेसबुक अकाउंट की जानकारी जुटाकर साथ ही उनके प्रोफाइल फेटो का इस्तेमाल कर फर्जी अकाउंट बना लेते थे। उक्त अकाउंट से वह उन लोगों को मैसेज करते थे| जो आपके फ्रैंड लिस्ट में है। जालसाज परेशानी बताकर अकाउंट नंबर भेजते थे और आप विश्वास में आकर उनके खाते में रुपए ट्रांसफर कर देते थे।
Facebook users data np

अब फेसबुक पर नया तरीका

कुछ दिनों से साइबर क्राइम पुलिस के पास वीडियो कॉलिंग कर ब्लैकमेलिंग की घटनाओं की शिकायत आने लगी है। फेसबुक पर आपको युवती फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज सकती है। वह आपसे दोस्ती बढ़ाने के बाद आपका मोबाइल नंबर मांग सकती है। मोबाइल नंबर मिलते ही वह आपसे चेटिंग फिर वीडियो कॉलिंग की मांग कर सकती है। यदि आप झासे में आकर वीडियो कॉलिंग पर कॉल रीसिव करते हैं तो आपके साथ ब्लैकमेलिंग हो सकती है। वह अश्लील वीडियो बनाकर स्क्रीन शॉट और वीडियो सेविंग एप्लीकेशन के माध्मय से आपको ब्लैकमेल कर सकती है। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल करने की धमकी देने के बाद कुछ लोग जालसाज ब्लैकमेलर की ठगी का शिकार भी हो चुके हैं।


Priyam Mishra



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ