आगर-मालवा: पालखेड़ी में गुरु के प्रति अनोखा प्रेम और सम्मान झुके सरपंच-कलेक्टर, प्राचार्य का ट्रांसफर रद्द


Image Credit : X

Agar-malwa News: आगर मालवा जिले के पालखेड़ी में गुरु के प्रति अनोखा प्रेम और सम्मान देखने को मिला। यहां के पीएम श्री स्कूल के प्रिंसिपल केसी मालवीय का पहले तो सरपंच से विवाद के बाद कलेक्टर ने ट्रांसफर कर दिया और बाद में जनता के दबाव में ट्रांसफर रद्द भी कर दिया गया। जिसके बाद विद्यार्थियों और गांव के लोगों ने आचार्य मालवीय का भव्य स्वागत किया। इस बीच भारत माता की जय के नारे भी लगे। 

दरअसल, पिछले हफ्ते सोशल मीडिया पर प्रिंसिपल केसी मालवीय का एक वीडियो वायरल हुआ था। वीडियो में प्रिंसिपल मालवीय स्कूली बच्चों को पीने का पानी उपलब्ध नहीं कराने पर गांव के सरपंच के खिलाफ FIR दर्ज कराने की बात करते नजर आ रहे हैं। इस वीडियो के वायरल होने के बाद इसकी खूब चर्चा हुई। मामले ने न सिर्फ तूल पकड़ा बल्कि राजनीतिक रंग भी ले लिया। जिसके बाद गांव के सरपंच गोवर्धन सिंह ने अपने अन्य सरपंच साथियों के साथ मिलकर प्रिंसिपल के खिलाफ स्थानीय विधायक से शिकायत की।

सोमवार को मामले की गूंज शासन तक पहुंची और कलेक्टर राघवेंद्र सिंह ने प्राचार्य केसी मालवीय का तबादला करीब अस्सी किलोमीटर दूर दूसरे स्कूल में कर दिया। इस फैसले से न सिर्फ स्कूल के छात्र बल्कि गांव के लोग भी निराश और नाराज थे। इस मामले को लेकर मंगलवार को इलाके में हंगामा हो गया। सूत्रों का कहना है कि ट्रांसफर आदेश में इस्तेमाल की गई शब्दावली में खामी थी, जिसके चलते कलेक्टर को ट्रांसफर करने का अधिकार नहीं था।

गांव के लोगों ने इस तबादले का विरोध शुरू कर दिया। आचार्य मालवीय के समर्थन में कई लोग आगे आये। विद्यालय के छात्र-छात्राओं में निराशा का भाव देखा गया। उधर, विरोध को देखते हुए कलेक्टर राघवेंद्र सिंह ने अपना आदेश रद्द करते हुए आचार्य मालवीय का ट्रांसफर रद्द कर दिया है। इस फैसले से गांव और स्कूल में खुशी की लहर दौड़ गई।

बुधवार सुबह जब आचार्य केसी मालवीय स्कूल लौटे तो ग्रामीणों और विद्यार्थियों ने उनका भव्य स्वागत किया। जुलूस निकाला गया और जमकर आतिशबाजी की गई। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल है।