मप्र में जल्द एक बार फिर आएगा चुनावी दौर, अगले 4 माह में होंगे उपचुनाव


Image Credit : X

स्टोरी हाइलाइट्स

मध्य प्रदेश उपचुनाव: एमपी की 4 से 8 सीटों पर उपचुनाव की संभावना, सुगबुगाहट तेज

मध्य प्रदेश में चार चरण के लोकसभा चुनाव के लिए मतदान समाप्त हो गया है। अब बारी है चुनाव नतीजों की। लोकसभा चुनाव के नतीजे 4 जून को घोषित किए जाएंगे, लेकिन चुनाव नतीजों से पहले मध्य प्रदेश में उपचुनाव की संभावना बढ़ गई है। राजनीतिक गलियारों में चर्चा चल रही है कि राज्य में 4 से 8 सीटों पर उपचुनाव हो सकते हैं।

दरअसल मध्य प्रदेश की 4 से 8 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हो सकते हैं। क्योंकि कांग्रेस के तीन विधायक अमरवाड़ा से कमलेश शाह, विजयपुर सीट से रामनिवास रावत और बीना सीट से निर्मला सप्रे बीजेपी में शामिल हो गए हैं। हालांकि, कमलेश शाह ने खुद ही विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है। जबकि रावत और सप्रे के इस्तीफे का इंतजार है। इनमें से कुछ विधायक लोकसभा चुनाव में उम्मीदवार हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि राज्य में 4 से 8 सीटों पर विधानसभा उपचुनाव हो सकते हैं।

छिंदवाड़ा जिले की अमरवाड़ा सीट से कांग्रेस विधायक कमलेश शाह ने बीजेपी में शामिल होने के बाद विधायक पद से इस्तीफा दे दिया है। जबकि विजयपुर कांग्रेस विधायक रामनिवास रावत और निर्मला सप्रे के इस्तीफे की स्थिति अभी भी स्पष्ट नहीं है। बुध विधानसभा से बीजेपी विधायक शिवराज सिंह चौहान के लोकसभा चुनाव जीतने की संभावना है।

शिवराज सिंह विदिशा लोकसभा सीट से उम्मीदवार हैं। विदिशा लोकसभा बीजेपी की सबसे सुरक्षित सीट है। इनमें से कुछ विधायक लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं। ऐसे में राज्य में उपचुनाव की स्थिति बनने के आसार हैं।