4 दिनों तक कई बसें बंद, कई रूटों पर घटे फेरे, जानिए अब कब सामान्य होगा बस संचालन


Image Credit : twitter

स्टोरी हाइलाइट्स

बसों की संख्या कम होने से जो बसें सड़कों पर दौड़ रहीं हैं उनमें यात्रियों का दबाव बढ़ने से भीड़ बढ़ गई है. बसों की यह कमी कम से कम 4 दिनों तक बनी रहेगी..!

कई रूटों पर घट गई बसें

भोपाल: मध्यप्रदेश में कई बसें बंद हो गई हैं। कई रूटों पर चलने वाली बसों की संख्या में जबर्दस्त कमी भी आई है। बुधवार को पंचायत चुनावों के लिए बसों का अधिग्रहण किए जाने के कारण ये दिक्कत पैदा हुई है। अभी कई और बसों का अधिग्रहण होना है जिससे रूट पर बसें और घट जाएंगी। इस कारण यात्रियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। बसों की संख्या कम होने से जो बसें सड़कों पर दौड़ रहीं हैं उनमें यात्रियों का दबाव बढ़ने से भीड़ बढ़ गई है। बसों की यह कमी कम से कम 4 दिनों तक बनी रहेगी।

पंचायत चुनावों के लिए प्रदेशभर में बसें अधिग्रहित की जा रहीं हैं। पंचायत चुनाव प्रदेश में 25 जून से 1 जुलाई तक होने हैं। ग्वालियर में ही 200 बसों का अधिग्रहण किया गया है। इसी तरह जबलपुर में भी पंचायत चुनाव के लिए 436 बसों का अधिग्रहण किया जा रहा है। परिवहन विभाग ने इन अधिग्रहित बसों की सूची जिला निर्वाचन कार्यालय को सौंप दी है। यहां प्रथम चरण का पंचायतों का चुनाव 25 जून को है। इसके तहत सिहोरा, कुंडम, पनागर एवं बरगी विधानसभा क्षेत्र में पंचायतों में चुनाव होना है। वहीं द्वितीय चरण का चुनाव 1 जुलाई को शहपुरा, पाटन एवं मझौली की पंचायतों में होगा।

पंचायतों के लिए 22 जून को बसों को रूटों से हटाकर चुनाव कार्य के लिए भेजा गया है। विभिन्न पंचायतों पर बने बूथों तक कर्मचारियों एवं चुनाव सामग्री को पहुंचाने के लिए परिवहन विभाग द्वारा इन सभी बसों का अधिग्रहण किया गया है। इसी के साथ डिंडौरी के लिए 50 व नरसिंहपुर के लिए भी 50 बसों का अधिग्रहण किया गया जिनकी जिला निर्वाचन कार्यालय को सूची सौंपी गई है। 

जुलाई में फिर से अधिग्रहित होंगी हजारों बसें

29 जून को भी पंचायत चुनावों के लिए बस अधिग्रहित की जाएंगी। प्रदेश में पंचायत चुनाव के बाद जुलाई में ही नगरीय निकाय चुनाव भी प्रस्तावित हैं। इन चुनावों के लिए भी राज्यभर में बसों का अधिग्रहण किया जाएगा। बसों का यह अधिग्रहण तीन दिनों तक के लिए हाेगा। निकायों के चुनावों में भी स्कूल बसों के साथ यात्री बसों का अधिग्रहण किया जाएगा।

 

SEEMAA DIWAN

SEEMAA DIWAN

diwanseema54@gmail.com