कार्यसमिति बैठक में BJP का महामंथन, सत्ता-संगठन में बड़े फेरबदल की अटकलें


Image Credit : twitter

स्टोरी हाइलाइट्स

विधान सभा चुनाव की तैयारी के लिए खास एजेंडे पर मंथन..!

चुनाव वर्ष में भाजपा कार्यसमिति की बैठक मंगलवार को  प्रारंभ हुई। यह बैठक कई मायनों में खास इसलिये भी है क्योंकि पहली बार जिला पंचायत अध्यक्षों को शामिल होने का मौका मिला है। बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह, वीडी शर्मा, नरेंद्र तोमर, ज्योतिरादित्य सिंधिया, प्रहलाद पटेल, कैलाश विजयवर्गीय समेत तमाम भाजपा दिग्गज मौजूद हैं।

पार्टी के सासद, विधायक भी  बैठक में शामिल हैं। राष्ट्रीय कार्यसमिति की हालिया बैठक के फैसलों को निचले स्तर तक क्रियान्वित करने के लिए चर्चा की जा रही है। पार्टी राजनीतिक व सांगठनिक प्रस्ताव भी पारित करेगी। माना जा रहा है कि बैठक के बाद मप्र में भाजपा के संगठन और सरकार में बड़े पैमाने पर फेरबदल शुरू हो जायेंगे।

यह बैठक आज पुराने आरटीओ ऑफिस में बनाए गए भाजपा के अस्थाई प्रदेश कार्यालय परिसर में हो रही है। सूत्र का कहना है कि यह बैठक पूरी तरह आगामी विस चुनाव के नजरिये से रणनीति पर चर्चा के लिये हो रही है। इसके साथ ही बूथ विस्तारक अभियान-2 को लेकर चर्चा होगी। कार्यसमिति में वर्तमान राजनैतिक परिस्थितियों पर राजनैतिक प्रस्ताव आयेगा। भारत को जी-20 देशों की अध्यक्षता मिलने पर वक्तव्य भी जारी किया जायेगा।

पेसा एक्ट सहित जनजाति कल्याण को लेकर किए जा रहे कार्यों तथा जनजागरूकता के लिए चलाए गयी गौरव यात्राओं पर भी जानकारी दी जाएगी। हारी सीटों पर फोकस: बताया जाता है कि, भाजपा का पूरा फोकस हारी सीटों पर हैं जो 2018 में हाथ से खिसक गई थीं और सत्ता गंवाना पड़ी थी। तब कांग्रेस ने सपा-बसपा और निर्दलीयों के समर्थन से सरकार बना ली थी। लिहाजा भाजपा ने भिंड से लेकर बालाघाट तक ऐसी सीटों पर फोकस कर रखा है।

इसके अलावा शिवराज कैबिनेट के कई चेहरों को भी बदला जाना है, लिहाजा बैठक में होने वाले फैसले के बाद संगठन को नये सिरे से कसा जायेगा और फिर सरकार का चेहरा बदलने की कवायद होगी, इसमें दर्जनभर मंत्री बदले जाने की तैयारी है। ताकि सत्ता विरोधी किसी भी लहर से निपटा जा सके।

सूत्रों का कहना है कि प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में दिग्विजय सिंह के ग? राघौग?, नेता प्रतिपक्ष डॉ गोविन्द सिंह के लहार, छिंदवा? 1, सहित कांग्रेस की मजबूत सीटों को जीतने पर भी रणनीति बनाई जाएगी। इन हारी हुई सीटों के प्रभारियों को बैठक में बुलाया गया है। वहीं कल 19 निकायों के परिणामों पर भी चर्चा होगी।

चूंकि भाजपा का फोकस कई दिनों से आदिवासी अंचल पर है और कल धार जैसे आदिवासी बहुल जिले के निकायों में भाजपा की हार इस बार कार्यमिति की चिंता का विषय है।

कल होगी कोर ग्रुप की बैठक

भाजपा प्रदेश कार्यालय में ही कल 25 जनवरी को कोर ग्रुप की बैठक होगी। इस बैठक में राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, क्षेत्रीय संगठन महामंत्री अजय जमवाल, मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, पी मुरलीधर राव, पंकजा मुंडे, कैलाश विजयवर्गीय, नरेंद्र सिंह तोमर, ज्योतिरादित्य सिंधिया, फग्गन सिंह कुलस्ते आदि भाग लेंगे।