फिर से राजधानी परियोजना बनाने की कवायद प्रारंभ


Image Credit : X

स्टोरी हाइलाइट्स

वर्तमान मोहन यादव सरकार ने इस निर्णय को बदलने की तैयारी कर ली है और राजधानी परियोजना प्रशासन पुन: बनाने की कवायद शुरु की है..!!

भोपाल: मप्र की केपिटल भोपाल के विकास कार्यों के लिये पूर्व में गठित राजधानी परियोजना प्रशासन को पुन: बनाने की कवायद नगरीय प्रशासन विभाग ने प्रारंभ कर दी है। पिछली शिवराज सरकार के समय तत्कालीन मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस के माध्यम से इसे विघटित कर दिया गया था और इसकी सम्पत्तियों को लोक निर्माण विभाग एवं वन विभाग के बीच बांट दिया गया था और वन विभाग ने पर्यावरण वानिकी वनमंडल नाम से उसे मिली उद्यानों आदि की सम्पत्तियों के रखरखाव हेतु गठित कर दिया था। 

वर्तमान मोहन यादव सरकार ने इस निर्णय को बदलने की तैयारी कर ली है और राजधानी परियोजना प्रशासन पुन: बनाने की कवायद शुरु की है तथा इस संबंध में लोक निर्माण एवं वन विभाग से परामर्श करना प्रारंभ कर दिया है। इससे वन विभाग के अंतर्गत गठित पर्यावरण वानिकी वनमंडल विघटित हो जायेगा तथा सारी सम्पत्तियां एक बारी फिर राजधानी परियोजना में आ जायेंगी जिससे विकास कार्यों के संबंध में निर्णय लेने में सहुलियत होगी क्योंकि अभी दो विभागों के माध्यम से ये निर्णय लेने पड़ रहे हैं।