नये वन इको पर्यटन नियम बनेंगे


Image Credit : X

स्टोरी हाइलाइट्स

सभी 144 ईको पर्यटन स्थलों को संचालित करने वाली समितियों को आय के वितरण एवं भुगतान की प्रक्रिया के निर्धारण हेतु नये नियम बनाये जाने हैं..!!

भोपाल: राज्य के वन विभाग अंतर्गत कार्यरत ईको टूरिज्म डेवलपमेंट बोर्ड द्वारा नवीन मप्र वन ईको पर्यटन नियम 2024 तैयार किये जायेंगे। दरअसल मप्र वन मनोरंजन एवं वन्यप्राणी अनुभव नियम 2015 में गंतव्य स्थलों के संचालन हेतु प्रक्रिया का निर्धारण किया जाना है एवं सभी 144 ईको पर्यटन स्थलों को संचालित करने वाली समितियों को आय के वितरण एवं भुगतान की प्रक्रिया के निर्धारण हेतु नये नियम बनाये जाने हैं तथा इसी के तहत ये नये नियम बनाये जायेंगे। यह निर्णय वन विभाग के अपर मुख्य सचिव जेएन कंसोटिया की अध्यक्षता में हुई ईको पर्यटन विकास बोर्ड की समीक्षा बैठक में लिया गया है।

ये भी हुये निर्णय :

बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि जो मनोरंजन क्षेत्र/वन्यप्राणी अनुभव क्षेत्र बंद हैं एवं भविष्य में उनके संचालन की संभावना भी नहीं है, उन्हें बंद करने के लिये उनके डिनोटिफिकेशन का प्रस्ताव शासन को भेजा जाये। साथ ही जो इको पर्यटन गंतव्य स्थल संचालित हैं, उनका एमएफ रेडियों के माध्यम से ज्यादा से ज्यादा प्रचार किया जाये।

चचई में ईको पर्यटन केंद्र का संचालन प्रारंभ होगा :

बैठक में निर्णय लिया गया कि रीवा वनमंडल में स्थित चचई जल प्रपात ईको पर्यटन गंतव्य स्थल के संचालन हेतु आवश्यक कार्यवाही की जाये। साथ ही ईको पर्यटन समितियों के सदस्यों को प्रशिक्षण देकर प्रत्येक ईको पर्यटन स्थल को बेहतर तरीके से संचालित किये जाने की कार्यवाही की जाये।
डॉ. नवीन जोशी