वन विहीन पहाड़ियों पर होगा पौधरोपण, बनेगी सूक्ष्म प्रबंधन योजना


Image Credit : twitter

स्टोरी हाइलाइट्स

नये निर्देशों में बताया गया है कि पहले परिक्षेत्र स्तरीय प्रशिक्षण आयोजित किये जायें तथा इसके बाद सूक्ष्म प्रबंधन योजना बनाई जाये..!!

भोपाल: राज्य के वन विभाग ने वन विहीन पहाड़ियों पर पौधरोपण के नये निर्देश सभी वन वन वृत्तों के मुख्य वन संरक्षकों, अभ्यारण्यों एवं नेशनल पार्कों के क्षेत्र संचालकों एवं सभी वनमंडलों के डीएफओ को जारी किये हैं। इसके लिये राशि कैम्पा मद से दी जायेगी।

ये नये निर्देश वन मुख्यालय की विकास शाखा के एपीसीसीएफ यूके सुबुध्दि के माध्यम से जारी किये गये हैं। नये निर्देशों में बताया गया है कि पहले परिक्षेत्र स्तरीय प्रशिक्षण आयोजित किये जायें तथा इसके बाद सूक्ष्म प्रबंधन योजना बनाई जाये।

जिन पहाड़ियों पर पौधरोपण किया जाना है वहां सुरक्षा व्यवस्था के अंतर्गत चेनलिंक फेंसिंग/पत्थर की दीवार बनायी जाये। फिर जल भण्डार युक्त क्षेत्र में उपयुक्त प्रजातियों के 90 सेंटीमीटर से कम गोलाई के समस्त ठूंठों को मानक रीति से तराशा जाये। अपर्याप्त जल भण्डार वाले अच्छी मिट्टी के क्षेत्र में पौधरोपण हेतु गड्ढे खोदे जायें तथा गड्डों की साईज 45 गुणित 45 गुणित 45 सेंटीमीटर होगी।

वनमंडल स्तर पर एक हजार पौधे रोपें जायेंगे। कम से कम 10 प्रतिशत पौधे मिश्रित जिसमें 1 से 2 प्रतिशत दुर्लभ, संकटापन्न एवं विलुप्तप्रायः प्रजातियों के होंगे। अप्रैल 2024 में प्रचलित मजदूरी दरों के अनुसार बजट का आवंटन किया जायेगा।