• India
  • Mon , Dec , 06 , 2021
  • Last Update 11:48:AM
  • 29℃ Bhopal, India
Podcast
प्रेरणा

Aatma Ke Rahasya : जीवन की सर्वोपरि आवश्यकता आत्मज्ञान :BY अतुल विनोद

18-11-2021

 मनुष्य एक चेतन प्राणी है। मनुष्य का आत्मा चेतन अनादि  नित्य पदार्थ है। मनुष्य का शरीर जड़ प्राकृतिक तत्वों से बना हुआ नाश को प्राप्त होने वाला होता है। शरीर की उन्नति मनुष्य आसनव्यायामसात्विक भोजन तथा संयम आदि गुणों को धारण कर करते हैं। आत्मा की उन्नति शरीर की उन्नति से अधिक महत्वपूर्ण होती है। मनुष्य का आत्मा विद्या तथा तप से शुद्धपवित्र  उन्नत होता है। यदि आत्मा शुद्ध  पवित्र नहीं है तो उसकी उन्नति सम्भव नहीं होती। आत्मा को उन्नति के लिये उसे आत्म  परमात्म ज्ञान से शुद्ध  पवित्र करना होता है। आध्यात्मिक ज्ञान को प्राप्त होकर ही आत्मा की उन्नति होती है।