कमलनाथ छिंदवाड़ा तो दिग्विजय सिंह को राजगढ़ से लोकसभा चुनाव लड़ाने की रणनीति


Image Credit : twitter

स्टोरी हाइलाइट्स

लोकसभा चुनाव को लेकर कांग्रेस में मंथन का दौर शुरू

भोपाल: कांग्रेस ने 31 जनवरी तक लोकसभा प्रभारी से संभावित उम्मीदवारों की सूची मांगी है। दिल्ली के सूत्रों के अनुसार पार्टी हाईकमान ने पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को छिंदवाड़ा और पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को राजगढ़ से लोकसभा चुनाव लड़ाने का मन बनाया है। इसके अलावा सीडब्ल्यूसी के सदस्य और विधानसभा चुनाव में पराजित उम्मीदवार कमलेश्वर पटेल को सीधी लोकसभा से लड़ने की चर्चा राजनीतिक गलियारों की सुर्खियों में है। दिल्ली में चर्चा है कि कांग्रेस कुछ विधायकों को भी लोकसभा चुनाव में उतर सकती है।

कांग्रेस के क्षेत्रीय नेताओं और कार्यकर्ताओं की आम राय है कि कांग्रेस के दिग्गजों को लोकसभा चुनाव के मैदान में उतरना चाहिए। आठवीं विधानसभा चुनाव लगातार जीतने वाले डॉक्टर गोविंद सिंह पिछला विधानसभा चुनाव लहार से हार गए हैं और अब उन्हें मुरैना लोकसभा सीट से लड़ाने की तैयारी चल रही है। डॉक्टर सिंह मुरैना संसदीय क्षेत्र में तेजी से सक्रिय भी है। भिंड लोकसभा से विधायक फूल सिंह बरैया अथवा मेवाराम जाटव, ग्वालियर लोकसभा सीट से महापौर शोभा सिकरवार के उतारे जाने की चर्चा सुर्खियों में है। 

वैसे युवा ब्राह्मण नेता और विधानसभा चुनाव में पराजित प्रवीण पाठक के चुनाव लड़ने की चर्चा चल रही है। पाठक को नेता प्रतिपक्ष उमंग सिंघार का खास सिपहसालार माना जाता है। इसी प्रकार गुना संसदीय क्षेत्र से केपी सिंह को चुनाव लड़ाया जा सकता है। सागर लोकसभा सीट क्षेत्र त्रिलोकीनाथ कटारे सबसे प्रबल दावेदार माने जा रहे हैं। ढाई लाख ब्राह्मण मतदाताओं का वर्चस्व वाले इस लोकसभा सीट में कटारे की पकड़ काफी मजबूत है। 

जबलपुर से विधानसभा में पराजित तरुन भनोट और विनय सक्सेना का नाम चर्चा में है। खंडवा लोकसभा सीट से तीन नाम मुख्य चर्चा में है जिनमें अरुण यादव का नाम सबसे पहले है और उसके बाद सुरेंद्र शेरा और रवि जोशी का नाम भी दावेदार के रूप में लिया जा रहा है।

पटवारी को इंदौर से लड़ाने कि चर्चा

पार्टी हाईकमान इंदौर से जीतू पटवारी को लड़ने पर गंभीरता से विचार कर रही है। हालांकि दूसरा नाम संजय शुक्ला का भी है। कांग्रेस झाबुआ-रतलाम क्षेत्र से विधायक डॉ हीरालाल अलावा पर दांव लगा सकती है। झाबुआ रतलाम लोकसभा क्षेत्र में जयस का खासा प्रभाव है, लिहाजा अलावा भाजपा को खासी टक्कर दे सकते हैं। सतना विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा को लोकसभा चुनाव लड़ा सकती है। इसके अलावा विकल्प के रूप में दिलीप मिश्रा और नीलांशु चतुर्वेदी का नाम चर्चा में है।