क्या मप्र में फिर बंद होंगे स्कूल? सीएम शिवराज का निर्देश: 50% क्षमता के साथ स्कूल खोले जाएं


स्टोरी हाइलाइट्स

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 50 फीसदी क्षमता वाले स्कूल खोलने के निर्देश दिए हैं, सोमवार से ये नियम लागू हो जाएंगे.

मध्य प्रदेश में कोरोना प्रतिबंध हटने के कुछ दिनों बाद दक्षिण अफ्रीका में मिले कोरोना के नए ओमीक्रोम वेरिएंट को लेकर मध्य प्रदेश में भी अलर्ट जारी किया गया है. लेकिन ओमाइक्रोन वेरिएंट के चलते शिवराज सरकार भी सतर्क हो गई है. मुख्यमंत्री ने स्कूलों को लेकर अहम निर्देश देते हुए मध्यप्रदेश में 50 फीसदी क्षमता वाले स्कूल खोलने के निर्देश दिए हैं, वहीं ऑनलाइन क्लास भी जारी रहेगी. राज्य में कल यानी सोमवार से यह व्यवस्था लागू हो जाएगी.

मुख्यमंत्री ने बुलाई आपात बैठक
दरअसल, सरकार पहले ही कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोम को लेकर अलर्ट हो चुकी है. पिछली बार की तरह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीएम हाउस में आपात बैठक बुलाई और अधिकारियों को सुरक्षा का ध्यान रखने के निर्देश दिए. एक माह में अंतरराष्ट्रीय उड़ानों से मध्य प्रदेश पहुंचने वाले लोगों की सूची तैयार की जाएगी, जबकि सभी लोगों की जांच की जाएगी. संदिग्धों को निगरानी में रखा जाएगा. शिवराज ने सभी दवाओं, जरूरी इंजेक्शन, ऑक्सीजन का स्टॉक रखने के भी निर्देश दिए हैं. उपचारात्मक इंजेक्शन का पर्याप्त स्टॉक भी रखा जाएगा.

50 फीसदी क्षमता के साथ खुले हैं स्कूल
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को निर्देश दिए कि स्कूल 100 प्रतिशत क्षमता के स्थान पर 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खोले जाएं, ताकि ऑनलाइन कक्षाएं बंद न हों और छात्र इस सुविधा से लाभान्वित होते रहें. यह व्यवस्था सोमवार से लागू हो जाएगी. सीएम ने कहा कि कुछ सकारात्मक मामले मुख्य रूप से हमारे दो शहरों भोपाल और इंदौर से आ रहे हैं. इनकी संख्या भी हमारे मन में डर पैदा करने जैसा नहीं है, बल्कि सावधानी बरतने की जरूरत है. स्थिति पर नजर रखी जा रही है। ताकि किसी भी तरह की परेशानी में तुरंत हर संभव मदद की जा सके.

हाल ही में हटा लिए गए सभी प्रतिबंध
उल्लेखनीय है कि मध्य प्रदेश में हाल ही में सभी कोरोना प्रतिबंध हटा लिए गए थे, लेकिन अफ्रीका में अब कोविड की तीसरी लहर का खतरा बढ़ गया है, वहीं राज्य में भी कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. ऐसे में सरकार एक बार फिर सख्ती करने के मूड में है. अगर मामला बढ़ता है तो आने वाले दिनों में फिर से कोविड संबंधी पाबंदियां लगाई जा सकती हैं।