युवक की मौत के बाद, किसानों ने 2 दिन के लिए टाला दिल्ली कूच का प्लान, अगले 2 दिन बनाएंगे रणनीति


Image Credit : twitter

स्टोरी हाइलाइट्स

किसान मजदूर मोर्चा (केएमएम) के संयोजक सरवन सिंह पंढेर ने कहा कि हम 2 दिनों तक रणनीति बनाएंगे..!!

बुधवार को खनौरी बॉर्डर पर एक युवक की मौत के बाद किसानों ने फिलहाल दिल्ली कूच रोक दिया है। किसान मजदूर मोर्चा (केएमएम) के संयोजक सरवन सिंह पंढेर ने कहा कि हम 2 दिनों तक रणनीति बनाएंगे। अगला फैसला 23 फरवरी को लिया जाएगा।

आंदोलन के 10वें दिन शंभू और खनौरी बॉर्डर पर हालात सामान्य हैं। बुधवार यानी 21 फरवरी को खनौरी बॉर्डर पर किसानों और पुलिस के बीच झड़प हो गई, जिसमें यहां एक युवा किसान शुभकरण सिंह की मौत हो गई। गुरुवार 22 फरवरी को दोपहर में किसानों ने शुभकरण की फोटो प्रदर्शित की और नारे लगाए।

सरवन पंधेर द्वारा जारी तस्वीर में पुलिस फायरिंग करती नजर आ रही है। पंढेर ने कहा कि इस तस्वीर से पता चलता है कि सीधी फायरिंग की गई है। पंजाब सरकार को हमलावरों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करना चाहिए। शुभकरण की मौत के बाद भारतीय किसान यूनियन (कादियान) ने जालंधर-लुधियाना सीमा पर फिल्लौर में जम्मू-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग को 2 घंटे के लिए अवरुद्ध कर दिया। हरियाणा में भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू चादुनी) के कार्यकर्ता भी सड़क जाम कर हड़ताल पर रहे।

किसान नेता बलदेव सिंह ने कहा- पुलिस ने हमारे कैंप और ट्रैक्टर पर हमला किया। 167 किसान घायल हुए हैं और 6 गायब है।