मिजोरम: पत्थर की खदान ढहने से अब तक 17 की मौत, दिखने लगा चक्रवात रेमल 


Image Credit : X

स्टोरी हाइलाइट्स

अधिकारियों ने बताया कि बारिश के कारण राज्य में कई जगहों पर भूस्खलन भी हुआ है,उन्होंने कहा कि हंटर में राष्ट्रीय राजमार्ग 6 पर भूस्खलन के कारण आइजोल देश के बाकी हिस्सों से कट गया है..!!

मिजोरम में चक्रवात रेमल का असर नॉर्थ-ईस्ट में भी दिखने लगा है।  मिजोरम में मंगलवार 28 मई की सुबह एक पत्थर खदान ढह गई।मिजोरम में तूफान के कारण लगातार हो रही बारिश की वजह से मंगलवार सुबह 6 बजे आइजोल में एक पत्थर की खदान ढह गई। इसमें 17 लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोगों के अभी भी लापता होने की ख़बर है। पश्चिम बंगाल और पड़ोसी बांग्लादेश दोनों में महत्वपूर्ण बुनियादी ढांचे को नुकसान की सूचना मिली है। 

आपको बता दें, कि मिजोरम के आइजोल जिले में पत्थर की खदान ढहने से अब तक 17 लोगों की मौत हो गई है और कई लोग लापता हैं। पुलिस ने मंगलवार को यह जानकारी दी। पुलिस के मुताबिक, हादसा आज सुबह इलाके में लगातार हो रही बारिश के बीच हुआ।

पुलिस ने बताया कि घटना सुबह करीब छह बजे आइजोल शहर की दक्षिणी सीमा पर मेल्थम और हलीमान के बीच के इलाके में हुई। एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि कई शव बरामद किए गए हैं जबकि कई अन्य मलबे में फंसे हुए हैं। भारी बारिश के कारण बचाव कार्य प्रभावित हो रहा है।

अधिकारियों ने बताया कि बारिश के कारण राज्य में कई जगहों पर भूस्खलन भी हुआ है। उन्होंने कहा कि हंटर में राष्ट्रीय राजमार्ग 6 पर भूस्खलन के कारण आइजोल देश के बाकी हिस्सों से कट गया है। अधिकारियों ने बताया कि इसके अलावा कई अंतरराज्यीय राजमार्ग भी भूस्खलन से प्रभावित हुए हैं।

बारिश के कारण सभी स्कूल बंद कर दिए गए और आवश्यक सेवाएं प्रदान करने वाले कर्मचारियों को छोड़कर सरकारी कर्मचारियों को घर से काम करने के लिए कहा गया है। मौसम विभाग ने अगले कुछ दिनों में असम और अन्य उत्तर-पूर्वी राज्यों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।