गणतंत्र दिवस परेड में इस बार नहीं होंगे कोई मुख्य अतिथि, कार्यक्रम में हुए कई बदलाव


Image Credit : ANI

स्टोरी हाइलाइट्स

इस बार 26 जनवरी को राजपथ पर होने वाले कार्यक्रम में कई बदलाव किए गए . इस बीच आपको बता दें कि, 51 साल के इतिहास में यह दूसरा मौका होगा जब गणतंत्र दिवस पर कोई मुख्य अतिथि नहीं होगा...

कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए इस बार 26 जनवरी को राजपथ पर होने वाले कार्यक्रम में कई बदलाव किए गए हैं. इसके साथ ही कुछ अन्य प्रतिबंध भी लगाए गए हैं. इस बीच आपको बता दें कि 2022 के गणतंत्र दिवस समारोह में कोई मुख्य अतिथि नहीं होगा. 51 साल के इतिहास में यह दूसरा मौका होगा जब गणतंत्र दिवस पर कोई मुख्य अतिथि नहीं होगा.

दिल्ली में ऐसी है तैयारी :

नई दिल्ली के डीसीपी दीपक यादव के मुताबिक कोविड प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए इस बार भी 26 जनवरी के कार्यक्रम में शामिल होने वालों की संख्या सीमित रहेगी. पूरे कार्यक्रम में लोगों के लिए सिर्फ 4 हजार टिकट दिए जा रहे हैं. पिछले साल की तरह समारोह में केवल 24 हजार लोगों को ही शामिल होने की अनुमति होगी.

टीकाकरण प्रमाण पत्र आवश्यक :

कार्यक्रम में शामिल होने वाले लोगों को अपना टीकाकरण प्रमाण पत्र दिखाना होगा. 15 साल से कम उम्र के बच्चों या स्कूली बच्चों को इस बार गणतंत्र दिवस कार्यक्रम में शामिल होने की अनुमति नहीं है. यादव ने कहा कि पूर्ण कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा.

इस बार हुए कई बदलाव :

इस बार गणतंत्र दिवस परेड के टाइम में भी बदलाव किया गया है. यादव ने कहा कि इस बार झलक कम होगी. साथ ही किसी भी हिंसा की आशंका को देखते हुए सुरक्षा कड़ी की जा रही है. ड्रोन रोधी प्रणालियों, क्यूआरटी, स्नाइपर्स, हिट टीमों और रक्षा प्रणालियों, सीसीटीवी कैमरों द्वारा सुरक्षा बढ़ा दी गई है. कोविड के कारण इस बार गणतंत्र दिवस समारोह में कोई मुख्य अतिथि नहीं होगा.