सुप्रीमकोर्ट के दिग्गज वकील फली एस नरीमन का निधन, PM मोदी ने जताया शोक


स्टोरी हाइलाइट्स

95 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

देश के वरिष्ठ वकील और पूर्व अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल फली एस नरीमन का निधन हो गया।  उन्होंने 95 साल की उम्र में बुधवार (21 फरवरी 2024) को अंतिम सांस ली। नरीमन अपने लंबे कानून करियर में कई बड़े और ऐतिहासिक मामलों का हिस्सा रहे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फली एस नरीमन के निधन पर श्रद्धांजलि दी है।

पीएम मोदी ने लिखा कि श्री फली नरीमन जी सबसे उत्कृष्ट कानूनी काबिलियत रहने वाले बुद्धिजीवियों में से थे। उन्होंने अपना जीवन आम नागरिकों के लिए न्याय सुलभ कराने के लिए समर्पित कर दिया। उनके निधन से मुझे दुख हुआ है। मेरी संवेदनाएं उनके परिवार और प्रशंसकों के साथ हैं। उसकी आत्मा को शांति मिलें।

नरीमन ने 1950 में बॉम्बे हाईकोर्ट से वकालत शुरू की थी। 1961 में वे सीनियर एडवोकेट नामित किए गए। उन्होंने 70 साल वकालत की। उन्होंने 1972 में सुप्रीम कोर्ट में वकालत शुरू की।  इसके बाद उन्हें भारत का अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल नियुक्त किया गया। नरीमन को उत्कृष्ठ काम के लिए जनवरी 1991 में पद्म भूषण और 2007 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया था।