एक ओवर में 35 रन, बूम-बूम बुमराह के बल्ले से कोहराम 

Cricketracker

Image Credit : twitter

स्टोरी हाइलाइट्स

बुमराह के सामने इंग्लैंड के स्पीडस्टार स्टुअर्ट ब्रॉड ने ओवर में 35 रन दे डाले. इनमें 29 रन बुमराह के बल्ले से आये..!

इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट के दूसरे दिन टीम इंडिया के पुछल्ले बल्लेबाज़ भी दिग्गज अंग्रेज गेंदबाज़ों पर भारी पड़े। ऋषभ पंत और रविंद्र जडेजा के शतकों के साथ ही भारतीय टीम के कप्तान जसप्रीत बुमराह ने भी बल्ले से तहलका मचा दिया। बुमराह के सामने इंग्लैंड के स्पीडस्टार स्टुअर्ट ब्रॉड ने ओवर में 35 रन दे डाले। इनमें 29 रन बुमराह के बल्ले से आये।  

जसप्रीत बुमराह ने 31 रनों की आतिशी पारी खेली। इस पारी के दौरान स्टुअर्ट ब्रॉड के एक ही ओवर में 35 रन बन गए। बुमराह के बल्ले से निकलते शॉट्स को देखकर ब्रॉड अपना माथा पीट कर रह गए।


ब्रॉड का यह ओवर अब तक के टेस्ट इतिहास का सबसे महंगा ओवर भी साबित हुआ

पहली गेंद-  4 रन
दूसरी गेंद-  5  रन (1 रन वाइड +4 रन बाई के)  
दूसरी गेंद - 7 रन ( 1 रन नो बॉल+ 6 रन)
दूसरी गेंद - 4 रन
तीसरी गेंद- 4 रन
चौथी गेंद  - 4 रन
पांचवी गेंद- 6 रन
छठी गेंद- 1 रन 

इस तरह ब्रॉड के ओवर में कुल 35 रन बने। इसके साथ ही टीम इंडिया के फैन्स को वह पल याद आ गया जब स्टुअर्ट ब्रॉड के ही ओवर में युवराज सिंह ने छह छक्के जड़ 36 रन बनाये थे 

ऋषभ पंत रविंद्र जडेजा और जसप्रीत बुमराह की शानदार पारियों की बदौलत पांचवें टेस्ट के दूसरे दिन टीम इंडिया ने पहली पारी में 416 रन बनाए हैं। बड़ी बात यह है कि इससे पहले कभी भी भारतीय टीम बर्मिंघम के मैदान पर 400 रन नहीं बना पाई है।

टेस्ट के दूसरे दिन जडेजा ने अपनी नाबाद पारी को आगे बढ़ाते हुए शानदार शतक जड़ दिया। जडेजा ने 183 गेंद में अपना शतक पूरा किया। जडेजा के टेस्ट करियर का यह तीसरा शतक है। विदेशी धरती पर जडेजा का यह पहला शतक है। इससे पहले जडेजा के दोनों शतक भारतीय मैदानों पर ही आये थे।

एक समय टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने 98 रन के स्कोर पर 5 विकेट गंवा दिए थे। यहां से पंत और जडेजा ने छठे विकेट लिए 222 रनों की साझेदारी कर इंग्लैंड के मंसूबों पर पानी फेर दिया। इंग्लैंड के लिए जेम्स एंडरसन ने 5 विकेट झटके। 

इंग्लैंड के खिलाफ पांचवें टेस्ट के पहले दिन टीम इंडिया की शुरुआत खराब रही थी। पहले सत्र में ही भारत के दोनों ओपनर आउट हो गए थे। हनुमा विहारी, विराट कोहली और श्रेयस अय्यर ने भी भारतीय प्रशंसकों को निराश किया था।