डोरस्टेप बैंकिंग : ग्राहकों की सुविधा के लिए डोर स्टेप बैंकिंग की शुरुआत

google

Image Credit : bankofbaroda

स्टोरी हाइलाइट्स

कोरोना की स्थिति लोगों में बेचैनी पैदा कर रही है। इस चिंता से लोगों को कुछ राहत देने के लिए विभिन्न व्यापारिक कंपनियों और बैंकों ने पहल की है। ग्राहकों की सुविधा के लिए डोर स्टेप बैंकिंग की शुरुआत की गई है।

विभिन्न सरकारी और गैर-सरकारी संस्थाओं द्वारा कोरोना की स्थिति से निपटने के लिए कई दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। कोरोना की यह स्थिति लोगों में बेचैनी पैदा कर रही है. इस चिंता से लोगों को कुछ राहत देने के लिए विभिन्न व्यापारिक कंपनियों या बैंकों ने पहल की है। ग्राहकों की सुविधा के लिए डोरस्टेप बैंकिंग की शुरुआत की गई है।

अब आपको पैसा लेने या पैसा जमा करने के लिए शाखा में जाने की जरूरत नहीं है। घर बैठे ही पाएं ये खास सुविधा. 

विभिन्न बैंकों की यह डोरस्टेप सेवा तब बहुत लोकप्रिय हुई जब कोरोना की दूसरी लहर से जनता दहशत में आ गई। जैसा कि कोरोना की स्थिति फिर से जटिल हो रही है, बैंक परिसर में भीड़ से बचने के लिए विभिन्न बैंक इस सेवा को वापस ला रहे हैं।

निजी बैंक एचडीएफसी की ओर से बैंक के ग्राहकों तक डोरस्टेप बैंकिंग का संदेश आना शुरू हो गया है। ध्यान दें कि इस डोरस्टेप बैंकिंग का यह विशेष लाभ केवल वरिष्ठ ग्राहकों को ही मिलेगा। यह सेवा आपको घर पर पैसे निकालने और जमा करने जैसे बुनियादी महत्वपूर्ण कार्यों की अनुमति देती है। 5 हजार से 25 हजार रुपये तक निकालने और जमा करने की सुविधा मिलेगी.

डोरस्टेप बैंकिंग सेवाएं प्राप्त करने के लिए आपको निकटतम शाखा से संपर्क करना होगा या बैंक की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर यह देखना होगा कि क्या बैंक दरवाजे पर बैंकिंग सेवाएं प्रदान कर रहा है। आप कस्टमर केयर सर्विस को कॉल करके भी इस विषय पर जानकारी एकत्र कर सकते हैं। कोरोना की स्थिति से निपटने के लिए बैंकों को डोर स्टेप सेवाओं को अपनाना चाहिए। फिलहाल आईसीआईसीआई बैंक घर-घर बैंकिंग सेवाएं बंद कर रहा है।

एक बात का ध्यान रखें कि विभिन्न बैंकों की डोर स्टेप बैंकिंग सेवाएं मुफ्त में उपलब्ध नहीं हैं। जो बैंक इस डोरस्टेप बैंकिंग सर्विस को लॉन्च कर रहे हैं, उनके भी अलग-अलग चार्ज हैं। बैंक के दरवाजे पर बैंकिंग सेवाओं के लिए शुल्क एक तरह का है।

एचडीएफसी बैंक डोरस्टेप बैंकिंग सेवाएं प्रदान कर रहा है। इस बैंक के सालाना ग्राहकों को डोरस्टेप बैंकिंग सेवाएं मिलेंगी। यह सेवा एक पंजीकृत मोबाइल नंबर से कॉल करके उपलब्ध है। इस बैंक की डोरस्टेप बैंकिंग सेवाओं से निकाली गई अधिकतम राशि 25,000 है। और न्यूनतम राशि 5 हजार है। पैसे निकालने और जमा करने में 200 रुपये एक्स्ट्रा लगेंगे। इस डोरस्टेप बैंकिंग सेवा के लिए आवेदन प्रतिदिन दोपहर 3 बजे तक स्वीकार किए जाएंगे।

यह डोरस्टेप बैंकिंग सेवा भारतीय स्टेट बैंक द्वारा भी  प्रदान की जा रही है। गैर-वित्तीय लेनदेन की लागत 60 रुपये होगी। इसके साथ ही आपको जीएसटी का भुगतान करना होगा। वित्तीय लेनदेन के लिए आपको 100 रुपये और जीएसटी का भुगतान करना होगा। प्रतिदिन निकालने और जमा करने की अधिकतम राशि 20 हजार रुपये है।

ASIANET के मुताबिक पंजाब नेशनल बैंक ने भी डोरस्टेप बैंकिंग सेवाएं शुरू की हैं। 60 साल से अधिक उम्र के ग्राहकों के लिए इस सेवा की शुरुआत की। पंजाब नेशनल बैंक 5 किलोमीटर के दायरे में ग्राहकों के लिए डीएसबी सेवा प्रदान कर रहा है। वित्तीय लेनदेन के लिए आपको 100 रुपये और जीएसटी का भुगतान करना होगा। वहीं, वित्तीय लेनदेन की लागत 100 रुपये और जीएसटी होगी।

कोटक महिंद्रा बैंक डोरस्टेप बैंकिंग सेवाएं प्रदान करने वाले बैंकों की सूची में है। 60 वर्ष से अधिक आयु के नागरिकों को यह डोरस्टेप बैंकिंग सेवा मिलेगी। कोटक महिंद्रा फ्रॉग इस बैंक का एकमात्र पुनर्वितरण ग्राहक है|