राम मंदिर से जनवरी में ही 50 हज़ार करोड़ के कारोबार उम्मीद


Image Credit : twitter

स्टोरी हाइलाइट्स

कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स का अनुमान..!

भारत की भक्ति भूमि अयोध्या में श्रीराम के जन्म जैसा आनंद नज़र आ रहा है। उल्लास की अविरल धारा बह रही है। रामलला के जन्म स्थान पर दिव्य श्रीराम मंदिर बनकर तैयार है। अब  देश-दुनिया के आस्थावानों के स्वागत को अयोध्या का कोना कोना तैयार है।

राम मंदिर के कारण बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं की आमद को देखते हुए व्यापार भी गुलजार होने की पूरी संभावना है। एक अनुमान के मुताबिक सिर्फ जनवरी 2024 में ही राम मंदिर से 50,000 करोड़ रुपये का व्यापार होगा।

CAIT (कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया ने यह आंकड़ा बताते हुए पीएम मोदी से 22 जनवरी को "राम राज्य दिवस" ​​​​घोषित करने का अनुरोध किया है।

CAIT अध्यक्ष ने कहा कि 22 जनवरी हर लिहाज से ऐतिहासिक होगा क्योंकि श्रीराम भारत की प्राचीन संस्कृति और सभ्यता के संस्थापक हैं। इस लिहाज से ही नहीं विदेशों में भी अयोध्या में राम मंदिर को लेकर उत्साह है।

केंद्र के साथ राज्य सरकार ने भी बड़ी संख्या में यहाँ आने वाले श्रद्धालुओं के लिए आवागमन से लेकर खान पान, के लिए लिए हर स्तर पर इंतजाम किये हैं। मंदिर निर्माण से टूरिज़्म प्रदेश ही नहीं देश की टूरिज़्म इंडस्ट्रीज़ में बड़े बूम का अनुमान है।