मल्लिकार्जुन खड़गे बन सकते हैं I.N.D.I.A. के अध्यक्ष! नीतीश ने किया संयोजक बनने से इनकार


स्टोरी हाइलाइट्स

I.N.D.I.A Alliance Meeting: इंडिया गठबंधन की शनिवार को वर्चुअली बैठक हुई. इस बैठक में 14 दलों के नेता शामिल हुए. हालांकि, ममता-अखिलेश-उद्धव ने इस बैठक से किनारा कर लिया.

I.N.D.I.A Alliance Meeting: आगामी लोकसभा चुनाव को देखते हुए बीजेपी के खिलाफ एकजुट हुए विपक्षी गठबंधन इंडिया (I.N.D.I.A) की शनिवार यानी 13 जनवरी को सुबह साढ़े ग्यारह बजे वर्चुअल बैठक हुई. जिसमें विपक्षी दलों ने इंडिया गठबंधन के अध्यक्ष पद के लिए मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम लगभग तय कर लिया है.

सूत्रों के मुताबिक, I.N.D.I.A गठबंधन की शनिवार को हुई इस वर्चुअल बैठक में कांग्रेस नेता को संयोजक बनाने का प्रस्ताव रखा गया. हालांकि, इससे पहले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इंडिया गठबंधन का संयोजक बनने से इनकार कर दिया था.

बैठक में ममता, अखिलेश, उद्धव नहीं हुए शामिल-

इस वर्चुअल बैठक में I.N.D.I.A गठबंधन से कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, सोनिया गांधी, राहुल गांधी, एनसीपी चीफ शरद पवार, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) के नेता सीताराम येचुरी, तमिलनाडु के मुख्यमंत्री और डीएमके चीफ स्टालिन समेत 14 दलों के नेता शामिल हुए थे.

लोकसभा चुनाव के मद्देनज़र यह बैठक सीट शेयरिंग और गठबंधन का संयोजक चुनने जैसे विषयों पर सार्थक चर्चा करने के लिए बुलाई गई थी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, I.N.D.I.A गठबंधन की इस अहम् बैठक में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, सपा नेता अखिलेश यादव और शिवसेना (उद्धव गुट) चीफ उद्धव ठाकरे शामिल नहीं हुए.

खड़गे ने बैठक के बाद दी यह जानकारी-

ख़ैर, इस वर्चुअल मीटिंग के बाद खड़गे ने एक्स यानी ट्विटर पर पोस्ट में लिखा, भारतीय समन्वय समिति के नेताओं ने आज ऑनलाइन मीटिंग की और गठबंधन पर सार्थक चर्चा हुई. हर कोई इस बात से खुश है कि सीट बंटवारे पर बातचीत सकारात्मक तरीके से आगे बढ़ रही है. हमने आने वाले दिनों में I.N.D.I.A द्वारा संयुक्त कार्यक्रमों के बारे में भी चर्चा की. 

उन्होंने आगे बताया कि मैंने सभी भारतीय दलों को अपनी सुविधानुसार 'भारत जोड़ो न्याय यात्रा' में शामिल होने और इस देश के आम लोगों को परेशान करने वाले सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक मुद्दों को उठाने के अवसर का उपयोग करने के लिए भी आमंत्रित किया है.

बता दें कि इससे पहले भी इंडिया गठबंधन की कई बैठकें हो चुकी है. जिसमें पटना, बेंगलुरु और मुंबई के बाद गठबंधन की बैठक दिल्ली में भी हुई. इन बैठकों में भी पार्टियों को एक साथ लाने से लेकर सीट शेयरिंग तक पर चर्चा हुई. पिछली बैठक में ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री पद के चेहरे के लिए खड़गे का नाम रखा था. जिसका केजरीवाल ने भी समर्थन किया था. हालांकि, इन चर्चाओं के बीच ही कांग्रेस अध्यक्ष ने साफ़ कह दिया था कि पहले चुनाव जीतें और फिर उसके बाद पीएम उम्मीदवार तय करें.