Bihar Politics: NDA विधायक दल के नेता चुने गए नीतीश कुमार, नई सरकार बनाने का दावा किया पेश


स्टोरी हाइलाइट्स

Bihar Politics: लोकसभा चुनाव से पहले बिहार में बड़ी सियासी उठापटक हुई है. रविवार (28 जनवरी) को नीतीश कुमार ने सूबे के सीएम पद से इस्तीफा दे दिया. इसके बाद एनडीए विधायक दल की बैठक में उन्हें नेता चुना गया. इस्तीफ़े के बाद नीतीश आज शाम तक ही NDA समर्थन से बनाई जा रही नई सरकार में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे.

Bihar Politics Updates: बिहार में चल रही राजनीतिक उथल-पुथल के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है. इसके साथ ही राज्य में 17 महीने पुरानी महागठबंधन सरकार का अंत हो गया है. सूत्रों के मुताबिक, इस्तीफा देने से पहले नीतीश कुमार ने जेडीयू विधायकों की बैठक में कहा कि अब साथ रहना मुश्किल है और इस्तीफे का वक्त आ गया है.

इस बैठक के बाद सीधे वह इस्तीफा देने के लिए राजभवन पहुंचे. नीतीश कुमार का यह कदम आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर गठित INDIA गठबंधन के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है, क्योंकि इसके सूत्रधार खुद नीतीश ही थे. बिहार में चल रही सियासी उठापठक के बीच छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज पूर्णिया में कांग्रेस विधायकों के साथ बैठक कर मौजूदा सियासी स्थिति पर चर्चा करेंगे.

नीतीश कुमार ने राज्यपाल को सौंपा त्यागपत्र-

इस्तीफा देने के बाद मीडिया से बात करते हुए नीतीश कुमार ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि मैं काम कर रहा था लेकिन मुझे काम नहीं करने दिया जा रहा था. इससे लोगों को दुख हो रहा था. आज मैंने इस्तीफा सौंप दिया. हमने अपने लोगों, पार्टी की राय को सुना और इसलिए आज हमने इस्तीफा दे दिया और जो सरकार थी उसे समाप्त कर दिया.

इस्तीफा सौंपने के बाद उन्होंने आगे कहा, हमने पूर्व के गठबंधन (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन) को छोड़कर नया गठबंधन बनाया था लेकिन इसमें भी स्थिति ठीक नहीं लगी. जिस तरह के दावे एवं टिप्पणियां लोग कर रहे थे, वे पार्टी के नेताओं को खराब लगे इसलिए आज हमने त्यागपत्र दे दिया और हम अलग हो गए.

विपक्ष द्वारा नीतीश कुमार पर ‘‘अवसरवादी’’ होने के लगाए जा रहे आरोपों को लेकर उन्होंने इंडिया गठन में अपनी भूमिका का उल्लेख करते हुए कहा, हमने गठबंधन कराया लेकिन कोई कुछ काम ही नहीं कर रहा था तो हमने बोलना ही छोड़ दिया था.

विधायक दल के नेता चुने गए नीतीश कुमार-

बिहार में नई NDA गठबंधन सरकार बनाने के लिए विधायक दल की बैठक में नीतीश कुमार को सभी विधायकों ने अपना नेता चुना लिया है. इस बैठक के बाद नीतीश कुमार राजभवन पहुंचे, जहां उन्होंने नई सरकार बनाने का दावा पेश लिया. इस दौरान उनके साथ एनडीए के तमाम विधायक भी राजभवन पहुंचे.

नौंवी बार CM पद की शपथ लेंगे नीतीश कुमार

नीतीश कुमार ने राजभवन पहुंचने के बाद एनडीए गठबंधन के विधायकों का समर्थन पत्र राज्यपाल को सौंपा. इस समर्थन पत्र में 128 विधायकों के हस्ताक्षर हैं, जिसमें बीजेपी के 78 विधायक, जेडीयू के 45 विधायक, हम (HAM) के चार विधायक और एक निर्दलीय विधायक के हस्ताक्षर शामिल हैं.

इस बीच नई सरकार के शपथ ग्रहण के लिए राजभवन में तैयारियां भी शुरू हो गई है. नीतीश कुमार आज पांच बजे नौंवी बार बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेंगे. सूत्रों के हवाले से यह भी बताया गया कि बीजेपी ख़ेमे से बिहार की नई सरकार में दो डिप्टी-सीएम सम्राट चौधरी और विजय सिन्हा हो सकते हैं.

नीतीश कुमार के साथ ये विधायक भी लेंगे शपथ-

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नीतीश कुमार के साथ 2 उपमुख्यमंत्री और 6 कैबिनेट मंत्री भी शपथ लेंगे. जो विधायक आज मंत्री पद की शपथ लेंगे उनमें सम्राट चौधरी, विजय कुमार सिन्हा, डॉ. प्रेम कुमार, विजय चौधरी, विजेंद्र यादव , श्रवण कुमार और HAM के संतोष कुमार सुमन और निर्दलीय विधायक सुमित सिंह का नाम शामिल है.