भेड़ाघाट एक अलौकिक अनुभव, भेड़ाघाट की खासियत..


स्टोरी हाइलाइट्स

भेड़ाघाट मध्य प्रदेश के जबलपुर के नजदीक नर्मदा नदी का यह घाट अपने आप में अद्भुत और अनोखा है। भेड़ाघाट पर्यटकों को आकर्षित करता है। यहां पर कई फिल्मों की शूटिंग हो चुकी है।भेड़ाघाट का जलप्रपात अपने आप में अनूठा है। यहां पर खूबसूरत चट्टानें हैं। यह स्थान दुनिया भर में पर्यटकों के आकर्षण का एक प्रमुख केन्द्र है। एक वर्ष में भेड़ाघाट में 344692 पर्यटक आए। इसमें 121 विदेशी और 344571 देशी पर्यटक थे।

भेड़ाघाट क्यों जाएं, भेड़ाघाट में देखने लायक क्या है, भेड़ाघाट क्यों महत्वपूर्ण है।

आज आपको भेड़ाघाट के बारे में बताते हैं भेड़ाघाट एक खूबसूरत स्थान है मध्य प्रदेश का यह खूबसूरत स्थान पूरी दुनिया में एक अलग ही स्थान रखता है।

भेड़ाघाट : मुख्यालय जबलपुर से 23 किलोमीटर दूर भेड़ाघाट में पूर्णमासी की रात को संगमरमरी चट्टानों के बीच से कल-कल करती नर्मदा को निहारना एक अलौकिक अनुभव देता है। 

सैकड़ों फुट ऊंचे संगमरमर से घाट और बीच में बहती नर्मदा नदी, भेड़ाघाट में देखने लायक स्थान है। जबलपुर में नर्मदा ने एक नहीं अनेक पर्यटन स्थलों का सृजन किया है। इनमें सर्वाधिक महत्वपूर्ण है, भेड़ाघाट, नर्मदा के दोनों किनारों पर संगमरमरी चट्टाने अपने आप में प्रकृति की अनुपम कारीगरी की तरह है। 

संगमरमरी चट्टानों के बीच जब नर्मदा अपना स्थान बनाकर आगे बढ़कर गहराई में गिरती है तो एक खूबसूरत प्रपात का सृजन होता है। ऊंचाई से जल गिरने के कारण पानी की बूंदों से धुएं का भ्रम होता है। 

इसलिए इस प्रपात का नाम धुंआधार जलप्रपात पड़ा। यह स्थान भी पर्यटकों के आकर्षण का एक प्रमुख केन्द्र है। एक वर्ष में भेड़ाघाट में 344692 पर्यटक आए। इसमें 121 विदेशी और 344571 देशी पर्यटक थे।


 

 

 

 

पुराण डेस्क

पुराण डेस्क