केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, केंद्र ने डीए में 3% बढ़ोतरी को मंजूरी दी..


स्टोरी हाइलाइट्स

मोदी सरकार के फैसले के बाद केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को अब 31 फीसदी महंगाई भत्ता मिलेगा.

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबरी, केंद्र ने डीए में 3% बढ़ोतरी को मंजूरी दी..


सरकारी कर्मचारियों के जीवन स्तर को और बेहतर बनाने के लिए डीए दिया जाता है। बढ़ती महंगाई के बाद भी कर्मचारी के जीवन स्तर पर किसी भी तरह का प्रभाव नहीं पड़ना चाहिए, इसलिए इसे समय-समय पर बढ़ाया जाता है। यह भत्ता सरकारी कर्मचारियों, सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को दिया जाता है।


मोदी सरकार के फैसले के बाद केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को अब 31 फीसदी महंगाई भत्ता मिलेगा.


नई दिल्ली: मोदी सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को दिवाली का बड़ा तोहफा दिया है. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने महंगाई भत्ते में 3% की बढ़ोतरी को मंजूरी दी है। इस फैसले से 50 लाख केंद्रीय कर्मचारियों को फायदा होगा। कैबिनेट की बैठक में यह अहम फैसला लिया गया है. 7वें वेतन आयोग के मुताबिक केंद्र सरकार के महंगाई भत्ते में 3 फीसदी की बढ़ोतरी के फैसले के बाद कर्मचारियों को उनके मूल वेतन पर 31 फीसदी डीए मिलेगा.


आज की बढ़ोतरी के बाद अब डीए 31 फीसदी हो जाएगा. इस साल जुलाई में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए 1 जुलाई से महंगाई भत्ता और महंगाई राहत (डीआर) दर 11 फीसदी बढ़ाने का फैसला किया था. इसके साथ ही डीए की नई दर 17 फीसदी से बढ़ाकर 28 फीसदी कर दी गई. वहीं, आज डीए में तीन फीसदी की बढ़ोतरी के साथ डीए की नई दर 31 फीसदी है. यानी केंद्रीय कर्मचारियों को उनके मूल वेतन का 31 फीसदी महंगाई भत्ता मिलेगा.


DA किस आधार पर तय होता है..


कर्मचारियों के वेतन के आधार पर डीए का भुगतान किया जाता है। शहरी, अर्ध-शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में काम करने वाले सरकारी कर्मचारियों के लिए डीए अलग है। डीए की गणना मूल वेतन के आधार पर की जाती है। डीए की गणना के लिए एक फार्मूला तय किया गया है, जो उपभोक्ता मूल्य सूचकांक द्वारा निर्धारित किया जाता है।


डीए क्या है..


सरकारी कर्मचारियों के जीवन स्तर को और बेहतर बनाने के लिए डीए दिया जाता है। बढ़ती महंगाई के बाद भी कर्मचारी के जीवन स्तर पर किसी भी तरह का प्रभाव नहीं पड़ना चाहिए, इसलिए इसे समय-समय पर बढ़ाया जाता है। यह भत्ता सरकारी कर्मचारियों, सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों को दिया जाता है। 

 

7वां वेतन आयोग: केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 3% की बढ़ोतरी; दिवाली पर वेतन वृद्धि का तोहफा।


केंद्रीय कर्मचारियों का डीए अब 28 फीसदी से बढ़ाकर 31 फीसदी हो गया है. इसे 31 जुलाई 2021 से लागू किया जाएगा। दिवाली के मौके पर केंद्र सरकार के करोड़ों कर्मचारियों को आज खुशखबरी मिली है कि उनके महंगाई भत्ते में 3% की बढ़ोतरी की गई है. इस बीच 47 लाख सरकारी कर्मचारियों को इसका फायदा मिल रहा है. आज केंद्रीय मंत्रिमंडल ने डीए, डीआर हाइक को मंजूरी दे दी और अपने कर्मचारियों को दिवाली का तोहफा दिया।


केंद्रीय मंत्रिमंडल ने 1 जुलाई को केंद्र सरकार के कर्मचारियों और पेंशनभोगियों के लिए मुद्रास्फीति भत्ते (डीए) और मुद्रास्फीति राहत (डीआर) में 11 प्रतिशत की वृद्धि को मंजूरी दी थी। इससे केंद्र सरकार के 48 लाख कर्मचारियों और 65 लाख पेंशनभोगियों को फायदा हुआ। डीए की नई दर 17 फीसदी से बढ़कर 28 फीसदी हो गई थी.


पिछले साल कोरोना के चलते वित्त मंत्रालय ने अप्रैल में 30 जून 2021 तक महंगाई भत्ते (डीए) में बढ़ोतरी पर रोक लगा दी थी। 1 जनवरी 2020 से 30 जून 2021 तक DA की दर 17 फीसदी थी.


सरकार ने आदेश जारी करते हुए कहा है कि सरकारी कर्मचारियों का आवास भत्ता (एचआरए) और डीए उनके मूल वेतन के आधार पर बढ़ाया जाएगा. मौजूदा नियम में कहा गया है कि डीए की राशि मूल वेतन के 25 फीसदी से ज्यादा होने पर एचआरए में 3 फीसदी की बढ़ोतरी होती है। यह नियम 2017 में बनाया गया था। 


यदि कर्मचारी का डीए उसके मूल वेतन के 25% से अधिक है, तो उसका एचआरए बदल दिया जाएगा। इसी के मद्देनजर केंद्र सरकार ने हाल ही में अपने कर्मचारियों के एचआरए की घोषणा की थी।


केंद्रीय कर्मचारियों को दोगुना बोनस देने या अलग से पैसा दिलाने के लिए सरकार एचआरए और वेतन को मिलाएगी या नहीं इस पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। लेकिन त्योहारी सीजन को देखते हुए सरकार इस 'डबल बोनस' का फायदा अपने कर्मचारियों को दे सकती है। बढ़ी हुई दर पर एचआरए भुगतान प्राप्त करने से वेतन में बड़ी वृद्धि हो सकती है। हालांकि इस संबंध में केंद्र सरकार की ओर से कोई आधिकारिक घोषणा नहीं की गई है।



पुराण डेस्क

पुराण डेस्क