• India
  • Sun , May , 19 , 2024
  • Last Update 12:50:PM
  • 29℃ Bhopal, India

MP Civil Judge परीक्षा 6 मई को, डेट क्लैश होने पर हरियाणा सिविल सेवा (न्यायिक शाखा) परीक्षा स्थगित-सुदेश गौड़

सुदेश गौड़ सुदेश गौड़
Updated Thu , 19 May

सार

हरियाणा के अभ्यर्थियों की एक याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने 6 मई से शुरू होने वाली हरियाणा सिविल सेवा (न्यायिक शाखा)-2021 मुख्य परीक्षाओं को स्थगित कर दिया..!

janmat

विस्तार

Bhopal: 156 पदों के लिए मध्य प्रदेश दीवानी न्यायाधीश, कनिष्ठ संभाग (प्रवेश स्तर) परीक्षा-2021 (MP Civil Judge, Junior Division, (Entry Level) Exam 2021) की प्रारंभिक परीक्षा 6 मई 2022 को होनी है। इसी तिथि को हरियाणा सिविल सेवा (न्यायिक शाखा)-2021 भी होनी थी।

एक ही तारीख को दो राज्यों में न्यायिक सेवा परीक्षा होने से हजारों ऐसे अभ्यर्थी पशोपेश में थे जिन्होंने दोनों परीक्षाओं के लिए आवेदन किया हुआ था। हरियाणा के अभ्यर्थियों की एक याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने  6 मई से शुरू होने वाली हरियाणा सिविल सेवा (न्यायिक शाखा)-2021 मुख्य परीक्षाओं को स्थगित कर दिया। 

न्यायमूर्ति विनीत सरण और न्यायमूर्ति जेके माहेश्वरी की पीठ ने आंतरिक आदेश पारित किया। इस मामले में अगली सुनवाई 9 मई को होगी। शीर्ष अदालत ने पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट से परिवर्तित तिथियां बताने या तारीख तय करने में उसकी सहायता करने को कहा।

राघव गुंबर और कुछ अन्य अभ्यर्थियों ने अपनी याचिका में इस बात की ओर इशारा किया था कि हरियाणा की परीक्षा पहले 22 अप्रैल से 24 अप्रैल के बीच होनी थी। हालांकि, दिल्ली न्यायिक सेवा परीक्षा की तारीखें भी उसके साथ पड़ने के कारण इसे 6 से 8 मई के लिए स्थगित कर दिया गया। मामले में वकील नमित सक्सेना ने मांग की कि हाईकोर्ट को मध्य प्रदेश की परीक्षाओं की तारीखों को देखते हुए मौजूदा तिथियों को भी स्थगित करना चाहिए।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तत्काल बाद हरियाणा लोक सेवा आयोग ने घोषणा की कि हरियाणा न्यायिक सेवा की 6 से 8 मई 2022 तक आयोजित होने वाली मुख्य परीक्षा की तारीखों को पुनर्निर्धारित किया जा रहा है। आयोग ने कहा कि इस परीक्षा की नयी तारीखों की घोषणा जल्द ही नियत समय पर की जाएगी। इस परीक्षा के माध्य्म से हरियाणा में सिविल जज के 256 पदों पर भर्ती होनी है। मुख्य् परीक्षा के स्थलगित होने से करीब आठ हजार अभ्यहर्थियों को नई तिथि के लिए इंतजार करना होगा।

याचिका में यह भी कहा गया था कि कुछ उम्मीदवारों के लिए मध्य प्रदेश न्यायिक सेवा परीक्षा में बैठने का यह अंतिम मौका है, लेकिन उनकी पूरी तैयारी, उम्मीदें और आकांक्षाएं बर्बाद हो जाएंगी क्योंकि उन्हें परोक्ष रूप से बैठने से रोक दिया जाएगा।

याचिका में एचपीएससी द्वारा जारी नोटिस दिनांक 30.03.2022 को रद्द करने और प्रतिवादियों को हरियाणा सिविल सेवा (ज्यूडिशल ब्रांच) की मुख्य परीक्षा स्थगित करने का निर्देश देने का निर्देश का आग्रह किया गया था। एचपीएससी को हरियाणा सिविल सेवा (ज्यूडिशल ब्रांच) की मुख्य परीक्षा 06.05.2022 (मध्य प्रदेश न्यायिक सेवा प्रारंभिक परीक्षा की तिथि) से 15.05.2022 (गुजरात न्यायिक सेवा की प्रारंभिक परीक्षा तिथि) को छोड़कर किसी अन्य तिथि तक स्थगित करने का आग्रह किया गया था।

एमपी हाईकोर्ट सिविल जज प्री परीक्षा (MP High Court Civil Judge Prelims Exam 2022) का आयोजन 6 मई 2022 के दिन किया जाएगा। यह प्रीलिम्स परीक्षा एक ही शिफ्ट में आयोजित होगी। एमपीएससी सिविल जज प्री परीक्षा का आयोजन मध्य प्रदेश के अलावा, हरियाणा, दिल्ली, यूपी, राजस्थान, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ में भी होगा। परीक्षा ऑनलाइन मोड में होगी। इसमें 150 अंक के 150 प्रश्न होंगे। अभ्यार्थियों को पेपर पूरा करने के लिए दो घंटे का समय दिया जाएगा और पेपर में कोई निगेर्टिव मार्किंग नहीं होगी। 

इस ऑनलाइन परीक्षा का एडमिट कार्ड जारी कर दिया गया है। जिन उम्मीदवारों ने सिविल जज भर्ती परीक्षा के लिए आवेदन किया है वे अपने एडमिट कार्ड एमपी हाईकोर्ट की वेबसाइट mphc.gov.in पर जाकर अभी भी डाउनलोड कर सकते हैं। मप्र सिविल जज जूनियर डिवीजन भर्ती प्रारंभिक परीक्षा देने वाले उम्मीदवारों को अपने साथ एडमिट कार्ड के अलावा फोटो पहचान पत्र भी साथ लेकर आना होगा।