भीगे हुए अखरोट के साथ.. डायबिटीज कंट्रोल..

भीगे हुए अखरोट के साथ.. डायबिटीज कंट्रोल..
अखरोट भिगोना ज़रूरी है क्योंकि नट्स और बीजों में कुछ एंजाइम होते हैं। इन एंजाइमों को कच्चा पचाना मुश्किल होता है। इसलिए भिगोने से इनका पाचन बेहतर होता है। इसके अलावा, भिगोने से उनमें पोषक तत्व कम नहीं होते हैं।


walnuts-g46e86b915_1920

क्या मधुमेह को नियंत्रित करने के लिए भीगे हुए अखरोट खाने चाहिए..


जब स्वस्थ पोषण की बात आती है तो नट और बीज लोकप्रिय होते हैं। क्योंकि इनके बहुत सारे फायदे हैं। ये शरीर को ऊर्जावान बनाए रखते हैं। ऐसे पोषक तत्वों में से एक है अखरोट। अखरोट, मानव मस्तिष्क के आकार का होता है। पूरे शरीर के लिए उपयोगी। कुछ अध्ययनों के अनुसार, यह मधुमेह को नियंत्रित करने में अच्छा काम करता है। 


मधुमेह के लिए अखरोट: विशेषज्ञों का मानना ​​है कि हर दिन भीगे हुए अखरोट खाने से टाइप 2 मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है। ये फाइबर से भरपूर होते हैं। शरीर में रक्त शर्करा की रिहाई को कम करना। यह हानिकारक शर्करा के स्तर को अचानक बढ़ने से रोकेगा। साथ ही, भीगे हुए अखरोट का ग्लाइसेमिक इंडेक्स केवल 15 होता है। अखरोट को इंसुलिन प्रतिरोध बढ़ाने और रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करने के लिए भी दिखाया गया है।

ये भी पढ़ें.. सेहत के लिहाज से डाइट मेंटेन करके त्योहार का आनंद कैसे लें..



स्वास्थ्य लाभों के अलावा, अखरोट ओमेगा-3 फैटी एसिड जैसे स्वस्थ वसा से भरपूर होते हैं, जो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करते हैं और हृदय को स्वस्थ रखते हैं। बहुत सारे प्राकृतिक तेल भी होते हैं जो त्वचा और बालों के लिए अच्छे होते हैं। पोषण विशेषज्ञों के अनुसार अखरोट सूजन को कम करने में मदद करता है। इसके नियमित सेवन से कैंसर का खतरा भी कम होता है।


कौन से अखरोट सर्वश्रेष्ठ हैं :


चिली अखरोट दुनिया में सबसे अच्छे में से एक हैं। वे रंग में हल्के, ताजे और अधिक उपज देने वाले होते हैं। हाल ही में, एसोसिएशन ऑफ ग्रोअर्स एंड एक्सपोर्टर्स ऑफ चिली नट और चिली वॉलनट्स ने भारतीय उपभोक्ताओं के लिए इन्हें पेश करने के लिए भारत में पहला सामान्य प्रचार अभियान शुरू किया। इससे भारत में अखरोट की खपत बढ़ने की उम्मीद है। 

 

EDITOR DESK



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


    श्रेणियाँ