EDITORMarch 8, 20211min353

बच्चों पर ज्यादा गुस्सा न करें, इससे बच्चे की मानसिक स्थिति पर बुरा असर पड़ता है

जैसे-जैसे बच्चे बड़े होते जाते हैं, उनका मनमौजीपन  भी बढ़ता जाता है। वे अक्सर अपने माता-पिता की बात नहीं मानते हैं। माता-पिता को लगता है कि उनके पास अपने बच्चों पर गुस्सा करने और उन पर चिल्लाने के अलावा कोई विकल्प नहीं है लेकिन अगर आप बहुत छोटे बच्चों को पीटते हैं तो यह कोई समस्या नहीं है, लेकिन बड़े होने वाले बच्चों पर हात उठाना उचित नहीं है क्योंकि आपका गुस्सा उनकी मानसिक स्थिति को प्रभावित करता है। 

angry-parent-child-today_disci_Newspuran

जानें कि आपका गुस्सा आपके बच्चे को कैसे प्रभावित करता है। 

आत्मविश्वास की कमी

यदि आप बच्चों पर चिल्लाते रहते हैं, तो वे धीरे-धीरे अपना आत्मविश्वास खो देंगे। वे डर के साथ जवाब देते हैं। यहां तक ​​कि स्कूल में जब शिक्षक उनसे प्रश्न पूछते हैं तो वे जवाब नहीं दे सकते हैं जबकी बच्चा जवाब जानता है। लेकिन पिटने का डर बच्चे के आत्मविश्वास को दिन-प्रतिदिन कमजोर बनाता है। 

नकारात्मक विचारों का जन्म

यदि आप बार-बार बच्चों को मारते रहेंगे, तो वे आपके बारे में नकारात्मक बातें सोचने लगेंगे। उनके मन में इस तरह की भावना पैदा होती है कि आप उन्हें प्यार नहीं करते। वे आप पर भरोसा नहीं कर सकते, उन्हें लगता है कि उनमें कोई कमी है। कई बार तो उन्हें अपनी परवरिश पर भी संदेह होने लगता है।    

यदि आप अक्सर चिल्लाते हैं, तो बच्चा वही सीखेगा। वह चिल्लाना शुरू कर देगा और अपने दोस्तों के साथ-साथ दूसरों से भी उसी तरह बात करेगा। यह संभव है कि किसी मोड़ पर वह आपसे भी ज़ोर से या चिल्लाकर बात करना शुरू कर देगा। इसलिए अच्छे से बात करें और अपने बच्चों को भी यही सिखाएँ। 

यदि आप बच्चों पर चिल्लाना शुरू करते हैं, तो बच्चा आपके सामने झूठ बोलना सीख जाएगा क्योंकि वह सोचता है कि झूठ बोलना आपके गुस्से से बचाएगा और वह उम्र के साथ बहुत बड़े झूठ बोलना शुरू कर देगा। उससे कम से कम नाराज़ होने की कोशिश करें ताकि आप उसकी भावनाओं को जान सकें और समझ सकें। 

 

 


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ