हर माह 129 बिलियन मास्क का उपयोग,  पर्यावरण के लिए खतरा, विशेषज्ञों ने दी चेतावनी… 

हर माह 129 बिलियन मास्क का उपयोग,  पर्यावरण के लिए खतरा, विशेषज्ञों ने दी चेतावनी…
अधिकांश फेस मास्क प्लास्टिक से बने होते हैं, माइक्रोफाइबर। विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि यदि मास्क को सही तरीके से निपटाया नहीं गया, तो यह एक बड़ी पर्यावरणीय समस्या बन सकती है। प्लास्टिक की तरह, डिस्पोजेबल मास्क हानिकारक पदार्थ, जैविक पदार्थ जैसे बिस्फेनॉल ए और साथ ही रोगजनक सूक्ष्मजीवों को वायुमंडल में फैला सकते हैं। डेनमार्क के विश्वविद्यालय में पर्यावरण विष वैज्ञानिक जियाओंग जेसन रेन ने यह शोध जानकारी दी। डिस्पोजेबल मास्क प्लास्टिक की बोतलों की तरह बहुतायत में उत्पादित होते हैं लेकिन आसानी से नष्ट नहीं किए जा सकते हैं।


पिछले 1 साल में कोरोना महामारी मास्क अभिन्न हो गए हैं। फेस मास्क को भी प्लास्टिक की तरह फेंक दिया जाता है, बेकार मास्क स्वास्थ्य और पर्यावरण के लिए खतरनाक हैं। यह नहीं पता है कि महामारी के दौरान अब तक कितने डिस्पोजेबल मास्क सुरक्षित रूप से निपटाए गए हैं| लेकिन एक अध्ययन के अनुसार, 1 महीने में 129 बिलियन मास्क का उपयोग किया जाता है | सूक्ष्म प्लास्टिक और नैनो-प्लास्टिक के कण हवा में टूट और फैल सकते हैं। आमतौर पर 1 माइक्रोमीटर से छोटे कणों को नैनोप्लास्टिक कहा जाता है। शोधकर्ताओं का मानना ​​है कि मास्क में नैनोपार्टिकल्स प्लास्टिक के कणों की तुलना में तेजी से फैल सकते हैं।
 

प्लास्टिक की बोतलों में कुछ प्रकार के प्लास्टिक को पुनर्नवीनीकरण किया जा सकता है लेकिन मास्क के पुनर्चक्रण पर कोई विशेष शोध नहीं किया गया है। वे दिन दूर नहीं जब कचरे के मुखौटे, अन्य प्लास्टिक कचरे की तरह, लैंडफिल पर या महासागरों में डिस्पोजेबल के रूप में पाए जा सकते हैं, ऐसी स्थिति में जहां उन्हें लगातार पुनर्नवीनीकरण नहीं किया जा सकता है। नए मास्क बनाने के लिए सूक्ष्म आकार के प्लास्टिक फाइबर के माइक्रोमीटर का उपयोग किया जाता है। मास्क में उपयोग होने वाला नैनो - प्लास्टिक प्रदूषण का एक नया स्रोत बन गया है। विशेषज्ञों का मानना ​​है कि मास्क के बढ़ते उत्पादन में बायोडिग्रेडेबल मास्क के उत्पादन पर जोर देने की जरूरत है।


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ