बेखुदी बेसबब नहीं ….भाजपा में हलचल तेज़, सिंधिया पहुंचे भोपाल  

बेखुदी बेसबब नहीं ….भाजपा में हलचल तेज़, सिंधिया पहुंचे भोपाल  

मप्र भाजपा में सत्ता से लेकर संगठन तक सब कुछ सहज बताते की कोशिशों में बेखुदी उजागर हो रही है। आज सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया के भोपाल पहुंचने को कल तक यही पड़ाव डालने के कार्यक्रम के बाद माना जा रहा है कि आगामी एक सप्ताह के भीतर भाजपा में कुछ महत्वपूर्ण निर्णय होंगे। आज दोपहर को सिंधिया भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा व महामंत्री सुहास भगत के साथ लंच कर रहे हैं। दरअसल सिंधिया के कई खांटी समर्थक लंबे समय से राजनीतिक बियाबान में हैं। इन्हें भाजपा संगठन या सत्ता में किसी रूप में हिस्सेदार की बात हो सकती है। इसके बाद वे अपने समर्थकों से भी मिलेंगे और मुख्यमंत्री से भी चर्चा करेंगे। उधर भाजपा ने सिंधिया के आगमन से पहले ही कल आधी रात तक कार्यसमिति के सदस्यों और जाति को इंगित करके जारी की गई लिस्ट के बाद भीतरी आपाधापी और सतह पर आई है। इस पर शुरू हुए विवाद को भांपते हुए पार्टी ने कार्यसमिति की इस सूची को ही हटा (डिलीट) कर दिया। सूत्रों का कहना है कि इस कदम के बाद हुई किरकिरी से पार्टी के भीतर वरिष्ठ पदाधिकारियों में नाराजगी है।

MP: सिंधिया पर बरसने वाले भाजपा विधायक तलब : अपनी बात के लिए राकेश गिरी ने जताया खेद, मांगी माफी

इस घटनाक्रम के ठीक पहले सीएम के ओएसडी बनाए गए तुषार पांचाल का इस्तीफा भी भाजपा को परेशान किये हुए हैं। कहा तो यह भी जा रहा है कि पांचाल की नियुक्ति का विवाद कल दोपहर में ही दिल्ली में भाजपा हाइकमान तथा पीएम के स्तर तक पहुंच गया था। पांचाल के मोदी सरकार को लेकर किये गये कटाक्ष वाले ट्वीट वायरल हो गये थे। माना जा रहा है कि विवाद बढ़ता देख पांचाल से इस पद को स्वीकार नहीं करने की पटकथा लिखी गई।

MP: सिंधिया पर बरसने वाले भाजपा विधायक तलब : अपनी बात के लिए राकेश गिरी ने जताया खेद, मांगी माफी

मोदी कैबिनेट में सिंधिया को जगह?

इधर ज्योतिरादित्य सिंधिया को केंद्रीय मंत्रिमंडल में स्थान मिलने की सुगबुगाहटें फिर तेज हो गई है। सिंधिया के दौरे से पहले उनके करीबी और प्रदेश में जलसंसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा है कि भाजपा में ज्योतिरादित्य सिंधिया को उचित सम्मान मिलना चाहिए। वहीं एक सूत्र का कहना है कि सिंधिया के लिए केंद्र में एक कैबिनेट बर्थ, बोर्ड और निगमों में होने वाली नियुक्तियों में भी हिस्सा पाने के आसार भाजपा की बदलती राजनीतिक परिस्थितियों में बढ़ गए हैं।

Rajesh Narbariya



हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ