मोटिवेशन एक धोखा है.. अगर …..SOURCE REAL MOTIVATION … P ATUL VINOD

मोटिवेशन एक धोखा है.. अगर …..SOURCE REAL MOTIVATION … P ATUL VINOD

paap

आप अपनी लाइफ से सेटिस्फाई नहीं हैं|

आप कुछ अच्छा करना चाहते हैं “और बेहतर”,  अपनी प्रॉब्लम का सॉल्यूशन चाहते हैं?

इसके लिए अब तक आपने कितने मोटिवेशनल VIDEOS देखे? 

कितनी मोटिवेशनल और इंस्पिरेशनल बुक्स पढ़ी? 

जो भी व्यक्ति लाइफ को बैटर करना चाहता है वो बुक्स, कोट्स, आर्टिकल्स, वीडियोज़, ऑडियोज़ के ढेर लगा लेता है| 

लेकिन क्या यह सिलसिला एक समय बाद थम जाता है? 

यदि आप सही रास्ते पर आ गए| बेटरमेंट की तरफ बढ़ गए, तो फिर एक समय बाद इन बुक्स आर्टिकल्स और ऑडियो वीडियोज़ की जरूरत नहीं पड़नी चाहिए| 

और इन सब को दिन रात इस्तेमाल करने के बाद भी लाइफ में चेंज नहीं आया तो यह सब बेकार हैं| 

या तो यह मटेरियल बेकार है या हम इस मटेरियल का सही उपयोग नहीं कर पा रहे|

कहीं ऐसा तो नहीं की मोटिवेशनल सामग्रियां वास्तव में सलूशन है ही नहीं|

एक पेड़ की पत्तियां सूख रही हैं?  आप पत्तियों पर पानी देने लगते हैं?  क्या यह समाधान है?  समाधान मिलेगा पेड़ की जड़ में| 

अधिकांश मोटिवेशनल ब्लॉग, आर्टीकल. ऑडियो, वीडियो पत्तियों को पानी देने के समान है|  इससे लाइफ का पेड़ हरा भरा नहीं होगा| 

मोटिवेशन और इंस्पिरेशन का खाद,बीज, पानी जब तक  जीवन की जड़ों तक नहीं पहुंचेगा पेड़ हरा भरा नहीं होगा| 

“जाके पांव न फटी बिवाई वो का जाने पीर पराई” 

जिसने लाइफ को समझा ही नहीं|  जिसने जीवन और अध्यात्म के आयामों को गहराई से छुआ ही नहीं|  वह कैसे आप को मोटिवेट कर सकता है? 

अच्छे कपड़े पहन कर कोट्स और रट कर  मोटिवेशनल स्पीकर नहीं बना जा सकता|  इसी तरह श्लोक और कथाएं याद करके, अध्यात्मिक  कॉस्ट्यूम पहन कर  गुरु नहीं बना जा सकता|

उपदेशक का काम  आपके जीवन को सतह से स्पर्श करना नहीं है| उपदेशक यदि आपके जीवन के अनछुए आयामों को न छू सके तो वह आपको रत्ती भर भी नहीं बदल पाएगा|

मन को कंट्रोल करो, विचारों को रोक दो,  निष्काम कर्मयोगी बनो,  सब कुछ समर्पित कर दो,  ध्यान करो,  चक्रों को खोलो,  थर्ड आई ओपन करो,  इस मंत्र का जाप करो,  उस साधना को करो, ये टिप्स अपनाओ वो फॉलो करो, ये उपाय करो वो तरीका अपनाओ| 

कहना आसान है लेकिन करके हासिल करना बहुत मुश्किल|

बताने वाले में भी  ज्यादातर ने बोला वो खुद हासिल नहीं किया जो उसने दर्शाया है| 

कितने समाधान मौजूद है समस्याओं के|  90 फ़ीसदी लोग या इससे कहीं ज्यादा इन सब को अपनाने के बावजूद भी सलूशन से दूर ही रह जाते हैं| 

सबसे पहले तो दिमाग से यह बात निकाल देनी जरूरी है कि लाइफ में  सब कुछ हरा ही हरा संभव है|

दूसरी बात किसी भी साधना, योग, उपासना, मोटिवेशन, अफरमेशन, लॉ ऑफ़ अट्रेक्शन या अन्य टूल्स एंड टेक्नीक से लाइफ को   चमत्कारिक रूप से बदल देने की सोच भी ख्याल से निकाल दें| 

ट्रांसफॉरमेशन की प्रोसेस  दरअसल हमारे पैराडाइम में मूलभूत बदलाव की प्रक्रिया है| 

Hand Unlocking Old Fashioned Lock ca. 2002

समस्या का समाधान समस्या को हटाने या मनचाही चीज़े प्राप्त करने में नहीं है|  

समाधान बाहरी बदलाव के साथ जीने और उसे स्वीकार करने में है|

लाइफ से जुडी सहज बातों और ज्ञान को लेकर मौजूद  लिटरेचर अच्चा तो लगता है लेकिन समझ नहीं आता| 

कोई कहता है मौन हो जाओ लेकिन चुप रहते वक्त सबसे ज्यादा ख्याल आते हैं? कबीर दास जी कहते हैं प्रेम के ढाई अक्षर पढ़ लो पंडित बन जाओ.. चलो पढ़ लिए एक बार नहीं हज़ार बार लेकिन समझ नहीं आ रहा कैसे पंडित बने? … सबने सूना है ये दोहा, कितने लोग हैं जिनकी जिंदगी में बस प्रेम ही प्रेम है? क्या कह देने से व्यक्ति प्रेममय हो सकता है?

ज्ञान और ज्ञान की बातों का कोई अंत नहीं|  

ज्ञान प्राप्त करने से पहले ज्ञान को समझने की बुनियादी योग्यता हासिल करनी पड़ेगी|

जीवन को बदलने  के लिए पहले जीवन की बुनियादी समझ विकसित करनी पड़ेगी| 

लाइफ से जुड़े बेसिक रूल्स वही है जो सदियों पहले थे| 

क्योंकि सच्चाई हमेशा कांस्टेंट होती है| 

टेक्नोलॉजी के कारण सत्य नहीं बदलता| 

जो  तकनीक आज हमारे पास है वही पौराणिक युग में भी हुआ करती थी लेकिन उसका स्वरूप दूसरा था| 

जीने का तरीका और  सिद्धांत हमेशा अपरिवर्तनशील रहेंगे| 

कुछ बुनियादी सिद्धांत जो आज अभी इसी वक्त अपना सकते हैं-  

अपने आपको गहराई से इस प्रकृति से जोड़ने की कोशिश करें|  अपने अंदर नेचर को और प्रकृति के अंदर स्वयं को  पहचानने का प्रयास करें|

अपना दायरा बढ़ाने का प्रयास करें|  खुद को एक पृथक सत्ता मानने की बजाये एक सार्वभौमिक सिस्टम का हिस्सा मानिये| 

इस बात का विश्वास रखें कि एक उच्चस्तरीय बुद्धिमत्ता हमेशा काम कर रही है| 

अपनी जिज्ञासा को शांत करने के लिए किताब, गुरुओं और ऑडीओ विडियो पर ही निर्भर न रहें| तलाश के दायरे को बढ़ाएं|  

हर प्रश्न का उत्तर गूगल नहीं है| आपके अंदर भी एक सर्च इंजन है जो सदियों से मौजूद है उसी से वर्तमान सर्च इंजिन्स निकले हैं| 

बिना किसी सहारे के आनंदित रहने का अभ्यास करें| आपका आनंद किसी वास्तु, व्यक्ति, स्थान या ऑडियो विडियो पर निर्भर नही होना चाहिए| 

आत्मनिर्भर आनंद की स्थिति हासिल करने में पूरी ताकत लगा दें| आपका आनंद बाहर के मोटिवेशन पर भी डिपेंड ना हो| 

शांति और आनंद प्राप्त करने के तरीके मत खोजिए| ये आपके अंदर पैदा होने के साथ ही मिल गए थे| जो मौजूद है उसकी तलाश कैसी? ये आपकी सहज प्रकृति है| 

जो बाहर हो रहा है उसे अपना अंदर मत बनाईये जो अंदर मौजूद है उसे स्वभाव बनाईये| बाहर बदले न बदले आप बदल जायेंगे| 

Atulsir-Mob-Emailid-Newspuran-02

 

motivational quotes,

how to motivate yourself everyday,

how to motivate yourself at work,

how to motivate yourself when depressed,

motivate yourself quotes,

how to motivate myself for study,

how to motivate yourself to be productive,

how to motivate yourself to be successful,

real inspiration meaning,

real inspirational quotes,

true inspiration meaning in hindi,

true inspiration synonym,

you are a true inspiration quote,

being an inspiration,

she is a true inspiration,

true inspiration line dance,

Finding Inner Inspiration,

Powerful Ways To MOTIVATE & INSPIRE Yourself ,

stages of spiritual transformation,

spiritual transformation symptoms,

spiritual transformation quotes,

spiritual transformation pdf,

spiritual transformation in the bible,

spiritual transformation scriptures,

spiritual transformation process,

spiritual transformation synonym

 

 


हमारे बारे में

न्‍यूज़ पुराण (PURAN MEDIA GROUP)एक कोशिश है सत्‍य को तथ्‍य के साथ रखने की | आपके जीवन में ज्ञान ,विज्ञान, प्रेरणा , धर्म और आध्‍यात्‍म के प्रकाश के विस्‍तार की |
News Puran is a humble attempt to present the truth with facts. To spread the light of knowledge, promote scientific temper, inspiration, religion and spirituality in your life.


संपर्क करें

0755-3550446 / 9685590481



न्‍यूज़ पुराण



समाचार पत्रिका


श्रेणियाँ